लॉकडाउन में घर से निकलने पर बड़े भाई ने कर दी छोटे भाई की हत्या

शेयर करें:

मुंबई । समता नगर पुलिस स्टेशन अंतर्गत पोइसर स्थित पशुपति दुबे चॉल में रहने आए 21 साल के छोटे भाई की उसके ही रहने बड़े भाई बुधवार को हत्या कर दी। वारदात की वजह लॉकडाउन के बीच छोटे भाई दुर्गेश का घर से बाहर चले जाना बताया जा रहा है।

समता नगर पुलिस के अनुसार, बड़ा भाई राजेश और उसकी पत्नी बच्चों के साथ पोइसर में रहती हैं। राजेश सैलून में काम करता है, जबकि उसका छोटा भाई दुर्गेश पुणे में प्राइवेट कंपनी में जॉब करता है। पुणे में फैल रहे कोरोना वायरस से होने वाले संक्रमण से दुर्गेश डर गया और उसने पुणे से मुंबई का रुख किया। दुर्गेश पुणे से कांदिवली स्थित अपने बड़े भाई राजेश के पास आ गया।

पुलिस ने बताया कि लॉकडाउन की वजह से दुर्गेश को राजेश घर से बाहर जाने से मना करता था। राजेश और उसकी पत्नी बुधवार दोपहर सब्जी-भाजी लेने के लिए घर से बाहर गए थे। वापस आने पर दुर्गेश और राजेश के बीच धारा 144 का उल्लंघन करने को लेकर बहस हो गई। राजेश अपने भाई दुर्गेश को घर से बाहर जाने पर मना करता था।

इसी बात को लेकर देखते ही देखते दोनों भाई आपस में लड़ने लगे और आरोप है कि उस दौरान राजेश ने घर में रखे चाकू से छोटे भाई दुर्गेश पर जानलेवा हमला कर दिया। इस वारदात में दुर्गेश गंभीर रूप से जख्मी हो गया और उसकी अस्पताल में मौत हो गई।

समता नगर पुलिस के सीनियर पीआई राजू कस्बे के अनुसार, 28 वर्षीय आरोपी राजेश ठाकुर के खिलाफ पुलिस ने हत्या का मामला दर्ज कर उसे गिरफ्तार कर घटना की जांच कर रही है। लॉकडाउन की वजह से देश में यह हत्या का पहला मामला है।

सायकायट्रिस्ट का क्या है कहना
सायकायट्रिस्ट (मुंबई) डॉ.हरीश शेट्टी ने इस बारे में कहा- मौजूदा हालात में कई लोग एंजायटी के शिकार हो रहे हैं। लोगों में डिप्रेशन भी बढ़ रहा है। इस वजह से वे अग्रेसिव होकर इस तरीके के हिंसक कदम उठा रहे हैं। कोशिश करें कि मौजूदा परिस्थिति को समझते हुए खुद को संतुलित रखें।