मोटापा है कई बिमारियों की जड़, जानें कारण और निवारण

शेयर करें:

क्या आपको यह पता है कि हमे रोज कितनी कैलोरीज की आवश्यकता है ? और इन कैलोरीज को प्राप्त करने के लिए हमें कितनी डाइट लेनी है यानि आहार में क्या और कितनी मात्रा में लेना है ?अक्सर इसका संतुलन सही नहीं हो पाता । अधिक कैलोरीज वाला आहार और शारीरिक क्रियाएं कम करने का परिणाम होता है मोटापा यानि शरीर में चर्बी जमा होना । मोटापे के कारण स्वास्थ्य को क्या खतरे होते हैं, आईये जानते हैं

मोटापा यानि शरीर में वसा अधिक मात्रा में एकत्रित हो जाना, ये एक ऐसी स्थिति है जिससे कई बीमारियों का ख़तरा बढ़ जाता है ।

मोटापा : स्वास्थ्य समस्याओं का ख़तरा

हृदय रोग
लकवा
कोरोनरी आर्टरी डिज़ीज़
हृदयाघात
ट्राइग्लिसराइड का स्तर बढ़ना
उच्च रक्तचाप
मधुमेह रोग
इन्सुलिन रेजिस्टेंस की स्थिति यानि शरीर में कोशिका द्वारा इन्सुलिन हॉर्मोन का उपयोग न करना
पॉलीसिस्टिक ओवेरियन डिज़ीज (किशोरियों में)
नींद सम्बंधित समस्याएं
जोड़ व मांसपेशियों की समस्याएं
अनुर्वरता

आजकल न सिर्फ वयस्क बल्कि बच्चे और किशोर भी मोटापे से ग्रस्त हो रहे हैं । बचपन से मोटा होना चिंता का विषय है । क्योंकि मोटे बच्चे अधिकतर मोटे व्यस्कों के रूप में विकसित होते हैं।

मोटापा : बचाव

स्वस्थ जीवन शैली अपनाएं
वसायुक्त आहार कम खाएं
तेल-घी का प्रयोग कम करें
संतुलित आहार लें
प्रोटीनयुक्त आहार अधिक लें
रेशेदार पदार्थ अधिक खाएं
फल-सब्ज़ियां व सलाद खाएं
फ़ास्ट फ़ूड न खाएं
पर्याप्त मात्रा में पानी पिएं
शारीरिक श्रम करें
बच्चों को खेलने के लिए प्रोत्साहित करें
मैदान में खेलने जाएं
एक जगह बैठे न रहें
नियमित रूप से सैर के लिए जाएं
नियमित व्यायाम करें
स्विमिंग, साइक्लिंग कर सकते हैं
योग करने से लाभ होगा

अपनी जीवनशैली और आहार में परिवर्तन करें, नियमित व्यायाम करें जिससे आपका वज़न कम कर बीमारियों के खतरे को कम किया जा सके ।