राष्ट्रीय युवा पुरस्कारों के नामांकनों लिए ऑनलाइन माध्यम से आवेदन प्रक्रिया शुरू

शेयर करें:

25 एकल श्रेणी और 10 संगठन श्रेणियों के लिए राष्ट्रीय युवा पुरस्कारों की घोषणा नामांकनों के लिए आवेदन प्रक्रिया अब ऑनलाइन की गयी 

ऑनलाइन आवेदनों के लिए मंत्रालय में नया पोर्टल https://innovate.mygov.in/national-youth-award/ बनाया गया  पुरस्कारों की संख्या बढ़ी, देश भर में विज्ञापन जारी किए जाएंगे

राष्ट्रीय युवा पुरस्कारों के लिए एक नया लोगो भी जारी किया गया
युवा मामले और खेल राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) श्री विजय गोयल ने आज यहां नए राष्ट्रीय युवा पुरस्कारों की औपचारिक रूपरेखा की घोषणा की। राष्ट्रीय युवा पुरस्कारों की चयन प्रक्रिया को अधिक व्यापक और पारदर्शी बनाने की दिशा में किए गए प्रयासों को ध्यान में रखते हुए यह पहल की गई है। युवा कार्यक्रम और खेल मंत्रालय द्वारा प्रत्येक वर्ष खेल के क्षेत्र में उत्कृष्ट कार्य को मान्यता देने के लिए यह पुरस्कार दिया जाता है। इसके अलावा इस पुरस्कार का उद्देश्य राष्ट्रीय विकास एवं सामाजिक सेवा के क्षेत्र में उत्कृष्टता हासिल करने के लिए युवाओं को प्रेरित करने, समाज के प्रति जिम्मेदारी की भावना विकसित करने और एक बेहतर नागरिक बनने के प्रति खुद युवाओं के अंदर संभावनाओं को बढ़ाना भी है। इस पहल की कुछ मुख्य विशेषताओं में निम्नलिखित शामिल हैः-

ऑनलाइन आवेदन – पहली बार यह निर्णय लिया गया है कि राष्ट्रीय युवा पुरस्कार के लिए नामांकन की प्रक्रिया ऑनलाइन तरीके से पूरी की जाएगी। हाल ही में प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी ने पद्म पुरस्कारों के नामांकन को भी ऑनलाइन करने की घोषणा की है। पहले ये नामांकन संबंधित राज्यों अथवा संघ शासित प्रदेशों के माध्मय से किया जाता था। इसके विपरीत, अब कोई भी आवेदक सीधे मंत्रालय को अपना आवेदन ऑनलाइन माध्यम से भेज सकता है।
राष्ट्रीय युवा पुरस्कार के लिए लोगो

पुरस्कार की संख्या में बढ़ोत्तरी
इससे पूर्व, शैक्षिक संगठन वर्ग के तहत राष्ट्रीय विकास एवं समाज सेवा के लिए युवाओं के साथ काम करने के लिए केवल एक पुरस्कार दिया जाता था। संगठन वर्ग में पुरस्कारों की संख्या अब एक से बढ़ाकर 10 कर दी गयी है तथा एक पदक और प्रमाण पत्र के साथ पुरस्कार राशि 2,00,000 रुपये कर दी गयी है। यह पहल देश में काम कर रहे संगठनों की संख्या को ध्यान में रखते हुए इस उद्देश्य के साथ की गयी है कि युवा विकास के क्षेत्र में काम करने वाले शैक्षिक संगठनों को अधिक स्वीकृति दिए जाने की जरूरत है। इसके अतिरिक्त, ये उत्कृष्ट संगठन देश में युवा विकास के क्षेत्र में मंत्रालय की विभिन्न योजनाओं और नीतियों के संवर्धन में साझेदार होंगे। इस कदम से देश भर में कार्यक्रम कार्यान्वयन में मंत्रालय की पहुंच के विस्तारित होने की उम्मीद है। एकल वर्ग में भी पुरस्कार के लिए धन की राशि बढ़ाकर 50 हजार रुपये कर दी गयी है और इसे 25 व्यक्तियों को प्रदान किया जाएगा।

कार्यकलापों के क्षेत्र का विस्तार
इससे पूर्व, राष्ट्रीय युवा पुरस्कार एकल क्षेत्रों को निर्दिष्ट किए बिना युवा विकास गतिविधियों एवं समाज सेवा के क्षेत्र में शानदार कार्य के लिए प्रदान किया जाता था जिससे यह एक सामान्य और कम केंद्रित पुरस्कार बन गया था।
यह भी फैसला किया गया है कि पद्म पुरस्कार के केंद्रित दृष्टिकोण के अनुरूप राष्ट्रीय युवा पुरस्कार भी युवाओं के लिए कार्यकलापों के विशिष्ट क्षेत्र में दिए गए उत्कृष्ट कार्यों के लिए प्रदान किया जाए। युवा विकास कार्य की दिशा में कार्यकलापों के क्षेत्रों में – स्वास्थ्य, अनुसंधान एवं नवप्रवर्तन, संस्कृति, मानव अधिकारों का संवर्द्धन, कला एवं साहित्य, पर्यटन, पारंपरिक औषधियां, सक्रिय नागरिकता, समुदाय सेवा, क्रीडा एवं शैक्षणिक उत्कृष्टता एवं स्मार्ट लर्निंग तथा इसी प्रकार के अन्य क्षेत्र शामिल हैं।

देश भर में विज्ञापन
राष्ट्रीय युवा पुरस्कार की सीमित जागरूकता की कमी को दूर करने के लिए, फैसला किया गया है कि सभी बड़े और क्षेत्रीय समाचार पत्रों में पुरस्कारों के लिए नामांकन आमंत्रित करते हुए देश भर में रंगीन विज्ञापन जारी किए जाएं। इसके अतिरिक्त, ये विज्ञापन माई.गॉव.पोर्टल एवं मंत्रालय के वेबसाइट पर भी रखे जाएंगे। पुरस्कार के लिए नामांकन आमंत्रित करने वाले विज्ञापन 10 मई, 2017 को जारी किए जाएंगे। ऑनलाइन आवेदन के साथ यह पहल राष्ट्रीय युवा पुरस्कारों के लिए एक गेम चेंजर साबित होगा।