नेक्सट जेनरेशन तकनीक में नवाचार के लिए बनेंगे 25 इनोवेशन हब

शेयर करें:

किसानों की आय दोगुनी करने के लिए कैबिनेट के फैसले के अनुसार नेक्सट जेनरेशन तकनीक में नवाचार के लिए 25 इनोवेशन हब बनाए जाएंगे और इसके लिए सरकार करीब 3700 करोड़ रुपए खर्च करेगी। जालियांवाला बाग मेमोरियल से जुड़े ट्रस्ट में होगा विपक्ष का भी सदस्य साल 2022 तक किसानों की आय दोगुनी करने के मकसद से केंद्रीय मंत्रिमंडल ने एक बड़ा फैसला है।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के इस सपने को पूरा करने के लिए कैबिनेट ने कृषि निर्यात नीति को मंजूरी दी है। सरकार के इस कदम से कृषि निर्यात के क्षेत्र में देश को एक महत्वपूर्ण हब बनाने में मदद मिलेगी। नीति के तहत कृषि निर्यात को मौजूदा 30 बिलियन डॉलर से दोगुना बढ़ाकर साल 2022 60 बिलियन डॉलर करने का लक्ष्य रखा गया है।

केंद्रीय मंत्रिमंडल ने पंजाब में रावी नदी पर शाहपुरकंडी बांध प्रोजेक्ट के निर्माण के लिए मंजूरी दी है। बांध के बनने से ना सिर्फ पाकिस्तान की तरफ जाकर व्यर्थ होनेवाले पानी का उपयोग हो सकेगा बल्कि निर्माण के बाद पंजाब और जम्मू एवं कश्मीर के 37 हजार हेक्टेयर से ज्यादा जमीन भी सिंचित हो सकेगी।

नेक्सट जेनरेशन तकनीक और साइबर तंत्र के लिए नवाचार बढ़ाने के मकसद से केंद्र ने इनोवेशन, एप्लीकेशन औऱ रिसर्च के क्षेत्र में 25 हब बनाने का फैसला किया है। इसके लिए सरकार करीब 3700 करोड़ रुपए खर्च करेगी।

जालियांवाला बाग मेमोरियल से जुड़े ट्रस्ट में विपक्ष के सदस्य को भागीदार बनाने के मकसद से सरकार ने इससे जुड़े जालियांवाला बाग राष्ट्रीय मेमोरियल कानून में संशोधन करने का फैसला किया है। मंत्रिमंडल ने ग्रामीण विद्युतिकरण निगम की करीब 53 फीसदी हिस्सेदारी को प्रबंधन के नियंत्रण के साथ उर्जा वित्त निगम को स्थानांतरित करने का भी फैसला किया है।