बजट से पिछड़ा वर्ग एवं अल्पसंख्यक वर्ग के विकास को मिलेगा नया आयाम

शेयर करें:

अनुपपुर @ पिछड़ा वर्ग एवं अल्पसंख्यक कल्याण राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) मंत्री श्रीमती ललिता यादव ने कहा है कि मध्यप्रदेश का बजट प्रदेश के पिछड़ा वर्ग एवं अल्पसंख्यक वर्ग के विकास को नया आयाम देगा। इस बजट में सभी वर्गों का ध्यान रखा गया है।

राज्य मंत्री श्रीमती ललिता यादव ने कहा कि वर्ष 2018-19 के लिए पिछड़ा वर्ग एवं अल्पसंख्यक कल्याण के लिए 993 करोड़, पिछड़ा वर्ग के छात्रों के लिए जिला स्तर पर बालक छात्रावासों के भवन निर्माण के लिए 5 करोड़ 70 लाख रूपये का तथा कन्या छात्रावास के लिए 21 करोड़ रूपये का प्रावधान स्वागत योग्य है। उन्होंने कहा कि पिछड़ा वर्ग तथा अल्पसंख्यक कल्याण वर्ग के बेरोजगार युवाओं को रोजगारोन्मुखी प्रशिक्षण के लिए 30 करोड़ तथा इन वर्गों के छात्रों को विभिन्न प्रतियोगी परीक्षाओं के लिए प्रशिक्षण देने की योजना में 1 करोड़ 28 लाख रूपये का प्रावधान विद्यार्थियों के लिये हितकारी निर्णय है।

श्रीमती ललिता यादव ने कहा है कि इस वर्ष बजट में विमुक्त, घुमक्कड़ एवं अर्द्ध घुमक्कड जनजातियों के लिये विभिन्न छात्रवृत्ति योजनाओं, स्वरोजगार और सर्वेक्षण के लिए 53 करोड़ 63 लाख रूपये का प्रावधान किया गया है। इस जातियों की बस्तियों को नाली, सड़क और मूलभूत सुविधायें उपलब्ध कराने, खेलकूद, संस्कृतिक एवं बोद्धिक प्रतियोगिताओं, सिंचाई के लिए कुआँ तथा बस्तियों में विद्युतीकरण, छात्रवृत्ति तथा समेकित विकास के सर्वेक्षण के लिए कुल 8 करोड़ 90 लाख रूपये का प्रावधान स्वगात भी योग्य है।