संत रविदास के विचारों और शिक्षा को आत्म-सात करने की जरूरत

शेयर करें:

 सीधी@ मुख्यमंत्री कमल नाथ ने संत रविदास जयंती पर प्रदेश के नागरिकों को शुभकामनाएँ दी। उन्होंने कहा कि आज हमें संत रविदास जी के विचारों और उनके द्वारा दी गई शिक्षा को आत्म-सात करने की जरूरत है।

मुख्यमंत्री कमल नाथ ने कहा कि संत रविदास सच्चे अर्थों में संत समाज का प्रतिनिधित्व करते हैं। “मन चंगा तो कठौती में गंगा” उक्ति के प्रवर्तक संत रविदास जी ने सामाजिक कुरीतियों के खिलाफ, सामाजिक समरसता के लिए जीवन-पर्यन्त भक्ति भावना के साथ लोगों में जागृति की भावना का प्रचार किया।

मुख्यमंत्री ने अपने शुभकामना संदेश में कहा कि हमें अपने समाज का, संत रविदास के आदर्शों और विचारों के अनुरूप निर्माण करने की जरूरत है।