राष्ट्रीय डेंगू दिवस: देश को डेंगू मुक्त करने का लक्ष्य

शेयर करें:

ज राष्ट्रीय डेंगू दिवस है। देश को डेंगू मुक्त करने का लक्ष्य हमारे सामने है। ऐसा तभी संभव है जब डेंगू के विषय में सही जानकारी हो और मच्छरों को पनपने से रोका जा सके। आइये जानते हैं कि डेंगू के लक्षण क्या है और कौन-से लक्षण खतरे के संकेत है ?

  • डेंगू वायरल रोग है, संक्रमित एडीज़ मच्छर के काटने से फैलता है
  • तेज़ बुख़ार, शरीर में दर्द डेंगू का लक्षण
  • रक्तचाप का कम होना डेंगू का गंभीर लक्षण
  • बेहोशी डेंगू का गंभीर लक्षण है
  • डेंगू होने पर कुछ सावधानियां रखना जरुरी
  • स्व-इलाज बिलकुल न करें
  • बुखार हो तो पैरासिटामॉल की गोली लें
  • एस्प्रिन, ब्रूफेन या वोवेरॉन दवा न लें
  • तेज़ बुख़ार होने पर पानी की पट्टी रखें
  • शरीर में पानी की कमी न होने दें
  • पर्याप्त मात्रा में तरल पदार्थ लें
  • अधिकतर मामलों में प्लेटलेट चढ़वाना जरुरी नहीं

डेंगू वायरल रोग है जो संक्रमित एडीज़ मच्छर के काटने से फैलता है। डेंगू होने पर व्यक्ति को तेज़ बुख़ार, शरीर में दर्द, आंखों में दर्द और त्वचा पर चकत्ते जैसे लक्षण हो सकते हैं।

डेंगू होने पर : सावधानियां

  • स्व -इलाज बिलकुल न करें
  • विशेषज्ञ की सलाह अनुसार ही दवाई लें
  • डेंगू मरीज में रक्तस्राव की सम्भावना अधिक होती है
  • कुछ दवाओं के लेने से शरीर में आतंरिक रक्तस्राव का ख़तरा बढ़ जाता है
  • बुखार हो तो पैरासिटामॉल की गोली लें

डेंगू : गंभीर लक्षण

  • चक्कर आना
  • बार-बार उल्टी
  • बेसुध होना या गफ़लत में जाना
  • बेहोशी
  • पेशाब कम आना
  • रक्तचाप का अचानक कम हो जाना
  • प्लेटलेट कम होना
  • सांस लेने में तकलीफ

जरुरी है कि डेंगू बुख़ार होने पर उसका सही प्रबंधन किया जाए ।

  • शरीर में पानी की कमी न होने दें
  • पर्याप्त मात्रा में तरल पदार्थ लें
  • साफ़ पीने के पानी में नमक, चीनी व नींबू मिलाकर पिएं
  • नारियल पानी, नींबू पानी पिएं
  • छाछ, ताज़े फलों का रस, सूप पिएं
  • शरीर में इलेक्ट्रोलाइट की कमी न होने दें
  • पानी में जीवन रक्षक घोल (ओआरएस) मिलाकर पिएं
  • तेज़ बुख़ार होने पर पानी की पट्टी रखें
  • सामान्य तापमान वाला पानी इस्तेमाल करें
  • बुखार हो तो पैरासिटामॉल की गोली लें
  • आराम करें
  • मच्छरदानी में सोएं

डेंगू के सभी मरीजों को अस्पताल में भर्ती होने की आवश्यकता नहीं होती । लेकिन व्यक्ति में ख़तरे के लक्षणों को लेकर सतर्क रहना जरूरी है ।