बलवा कर दो पक्षों ने की एक दूसरे के साथ मारपीट

शेयर करें:

जबलपुर @ थाना प्रभारी सिहोरा संजय दुबे ने बताया कि सोमवार को सुबह ग्राम भिटोनी में झगडा होने की सूचना पर स्टाफ के साथ पहुचकर घायलो को उपचार के लिए सिहोरा अस्पताल भिजवाया। सिहोरा शासकीय अस्पताल मे बिरजू गडारी 42 वर्ष भिटोनी सिहोरा निवासी ने बताया कि वह खेती करता है। ग्राम भिटोनी मे उसके गडारी समाज एवं यादव समाज के लोगो ने अलग अलग प्रतिमाये रखी थी। जिसका दिनॉकरविवार को दोपहर 3 बजे विर्सजन किया गया था। विसर्जन के दौरान दोनेा समाज के लोगो के बीच विवाद हो गया था।

इसी बात पर से आज सुबह 7 बजे यादव समाज के कल्लू यादव, बल्लू यादव, नन्ना यादव, अतरलाल यादव, गोली यादव,, कल्याण यादव, हंसा यादव, भूरा यादव, निप्पू यादव,, बाली यादव, सुग्रीम यादव, रिंकू यादव, दिप्पू यादव, राजेन्द्र यादव, राकेश यादव, लईया यादव, छोटू यादव, भटूरा यादव, एवं अन्य 10-15 महिला पुरूष एक राय होकर गडारी मोहल्ले में गालीगलौज करते हुये आये, सभी कह रहे थे हमारे आगे दुर्गा जी क्यो निकाले,ऐसा कहते हुये सभी ने पत्थर से उसके गॉव के लोगो पर हमला कर दिया, कल्लू यादव जो तलवार लेकर आया हुआ था तलवार से लोगो को मारने के लिये दोैडा, हंसा यादव कह रहा था बंदूक से फायर कर सब को जान से खत्म कर दो।

पत्थर लगने से उसके एवं उसके समाज के बालक राम गाडारी, मुन्नीलाल गाडारी, उर्मिला बाई गाडारी, कैलाश गाडारी, अजय गाडारी, कल्लू बाई गाडारी, प्रेम बाई गाडारी, वेदवती गाडारी, आदि कई लोगो को चोटे आ गयी है मोहल्ले के घरो के खपरेल, बर्तन सायकिलें आदि मे भी टूट फूट हुई है। सभी को उपचार हेतु सिहोरा अस्पताल लाया गया है। बिरजू गडारी की रिपोर्ट पर अपराध पंजीबद्ध कर विवेचना मे लिया गया।

वहीं अतर लाल यादव 60 वर्ष भिटौनी सिहोरा ने बताया कि ग्राम भिटोनी मे उसके यादव समाज एवं गडारी समाज के लोगो ने अलग अलग प्रतिमाये रखी थी। जिसका रविवार को दोपहर में विर्सजन किया गया था। विसर्जन के दौरान संजू गडारी, शिव गडारी, नरेन्द्र गडारी आदि ने अंजनी बाई यादव के साथ घर मे घुसकर मारपीट की थी, जिसकी अंजनी ने थाना सिहोरा मे रिपोर्ट की थी। आज सुबह 7 बजे बालक राम गडारी, बिरजू गडारी, दर्रू गडारी,,, प्रमोद गडारी, रामगोपाल गडारी, मनोहर गडारी, दस्सी गडारी, जय गडारी, गुड्डू पिता आशाराम गडारी, गुड्डू पिता कोमल गडारी, जगत गडारी, श्रीराम गडारी, राजेश गडारी, खिलन गडारी, तथा गडारी समाज के अन्य कई महिला एवं पुरूष जहाँ दुर्गा प्रतिमा रखी थी वही मंच के पास आकर हमारे परिवार के लोगो का नाम लेकर गालीगलौज करने लगे तथा पत्थर से हमला कर दिया, नाति रिंकू के साथ जय गडारी, ने मारपीट की, पत्थर लगने से उसे एवं उसकी पत्नि को चोटे आ गयी , सभी जान से खत्म करने की धमकी दे रहे थे सूचना पर पहुची 100 डायल वाहन द्वारा हम तीनो को उपचार हेतु सिहोरा अस्पताल लाया गया है। अतरलाल यादव की रिपोर्ट पर अपराध पंजीबद्ध कर विवेचना मे लिया गया।