गंगा जमुना तहजीब : हिन्दू महिला की अर्थी को मुस्लिम युवकों ने दिया कांधा

शेयर करें:

भोपाल। गंगा जमुनी तहजीब का एक संगम भोपाल में देखने को मिला जब अचानक से भोपाल के टिलाजमालपुरा स्थित हरिजन बस्ती में एक हिंदू महिला शमा नामदेव की लंबी बीमारी के कारण मृत्यु हो गई। महिला के घर में उनके पति के अलावा दो बेटे थे।

बताया जा रहा है कि महिला लंबी बीमारी से ग्रसित थी। महिला की मौत के बाद आसपास के लोग कोरोना संक्रमण के डर से घर से बाहर नहीं निकले। जिसके पास उसे क्षेत्र के मुस्लिम युवक अर्थी को कंधा देने पहुंचे एवं हिंदू रीति रिवाज से महिला का दाह संस्कार किया।

दरअसल गुरुवार को भोपाल के टीलाजमालपुरा स्थित हरिजन बस्ती में लंबी बीमारी के कारण एक महिला की मौत हो गई। परिवार में पति के अलावा दो बेटे होने की वजह से अर्थी को कंधा देने के लिए लोगों की कमी थी। आसपास के लोग कोरोना संक्रमण के डर से घर से बाहर नहीं निकलने में हिचक रहे थे।

ऐसे में उसे क्षेत्र के शाहिद खान ने अंतिम संस्कार करने का जिम्मा उठाया। 15 मुस्लिम युवकों ने मिलकर अर्थी को कंधा दिया। साथ ही पूजन सामग्री खरीद, छोला विश्राम घाट के लिए रवाना हुए। हिंदू रीति रिवाज के साथ महिला का अंतिम संस्कार किया गया।

हालांकि यह पहला मौका नहीं है जहां इंसानियत ने अपना फर्ज अदा किया है। इससे पहले इंदौर से एक ऐसे ही तस्वीर सामने आई थी। जहां कुछ मुस्लिम युवकों ने एक बुजुर्ग महिला की अर्थी को कांधा देकर हिंदू रीति रिवाज से ही उनका अंतिम संस्कार किया था।