मॉडर्ना ने पंजाब सरकार को वैक्सीन सप्लाई करने से किया इनकार, कहा – केवल भारत सरकार के साथ करेंगे सौदा

शेयर करें:

अमेरिकी कंपनी मॉडर्ना ने पंजाब सरकार को अपनी कोरोना वायरस वैक्सीन सप्लाई करने से इनकार कर दिया है। अपने जवाब में कंपनी ने कहा है कि उसकी आधिकारिक नीति के तहत वह केवल भारत सरकार के साथ सौदा कर सकती है। मॉडर्ना की तरफ से यह जवाब ऐसे समय पर आया है जब कई भारतीय राज्यों ने वैक्सीन खरीद के लिए वैश्विक टेंडर जारी किए हैं। उसके जवाब से साफ है कि वह किसी राज्य को वैक्सीन सप्लाई नहीं करेगी।

पंजाब ने भी वैक्सीन खरीद के लिए जारी किया है टेंडर
भारत के अन्य राज्यों की तरह पंजाब ने भी वैक्सीन खरीद के लिए वैश्विक टेंडर जारी किया है औऱ इसके लिए स्पूतिक-V के निर्माता गामालेया रिसर्च इंस्टीट्यूट ऑफ एपिडेमियोलॉजी एंड माइक्रोबायोलॉजी, फाइजर, जॉनसन एंड जॉनसन और मॉडर्ना समेत कई कंपनियों से संपर्क साधा गया है। राज्य में वैक्सीनेशन के नोडल अधिकारी विकास गर्ग ने बताया कि अभी तक केवल मॉडर्ना का जवाब आया है औऱ उसने भी राज्य सरकार के साथ सौदा करने से इनकार कर दिया है।

पंजाब के पास बची मात्र 66,000 खुराकें- गर्ग
गर्ग ने बताया कि राज्य अभी तक केवल 4.2 लाख खुराकें खरीद पाया है जिनमें कल केंद्र सरकार से मिली 66,000 खुराकें भी शामिल हैं। उन्होंने कहा कि इनमें से 3.65 लाख खुराकें इस्तेमाल की जा चुकी हैं और मात्र 64,000 खुराकें ही बची हैं। उन्होंने कहा, “राज्य में भारी कमी को पूरी करने के लिए वैक्सीन खरीद के सभी प्रयास किए जा रहे हैं। हमें भारत सरकार से अभी तक केवल 44 लाख खुराकें मिली हैं।”

केंद्र सरकार ने राज्यों पर छोड़ दिया है विदेशी कंपनियों से समझौते का जिम्मा
बता दें कि अपनी वैक्सीन नीति के तहत केंद्र सरकार ने विदेशी कंपनियों से सौदा करने का जिम्मा राज्य सरकारों पर डाल दिया है। इसके अलावा भारत बायोटेक और सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया (SII) जैसी कंपनियों से भी केंद्र सरकार केवल 50 प्रतिशत खुराकें खरीद रही है, वहीं 25-25 प्रतिशत खुराकें राज्यों और निजी अस्पतालों के लिए छोड़ी गई हैं। उसकी इस नीति की काफी आलोचना हो रही है और कई राज्यों ने उससे सीधे वैक्सीन खरीदने को कहा है।

पंजाब में क्या है महामारी और वैक्सीनेशन की स्थिति?
पंजाब अभी कोरोना संक्रमण की दूसरी लहर का सामना कर रहा है और शनिवार को यहां 5,421 नए मामले सामने आए, वहीं 201 मरीजों की मौत हुई। राज्य में अभी तक कुल 5,33,973 लोगों को संक्रमित पाया जा चुका है, वहीं 13,089 लोगों की मौत हुई है। वैक्सीनेशन की बात करें तो राज्य में अभी तक वैक्सीन की 46,91,082 खुराकें लगाई जा चुकी हैं। 39,64,961 लोगों को एक खुराक लगी है, वहीं 7,26,121 लोगों को दोनों खुराकें लग चुकी हैं।