राज्य मंत्री जालम सिंह पटैल ने दिव्यांगों को उपकरण वितरित किये

शेयर करें:

नरसिंहपुर @ प्रदेश के आयुष, कुटीर एवं ग्रामोद्योग (स्वतंत्र प्रभार) और लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी राज्य मंत्री जालम सिंह पटैल ने नरसिंहपुर के जनपद पंचायत परिसर में आयोजित जिला स्तरीय दिव्यांग उपकरण वितरण शिविर में दिव्यांगों को उनकी आवश्यकता के अनुसार विभिन्न उपकरण प्रदान किये।

इस अवसर पर राज्य मंत्री पटैल ने कहा कि केन्द्र और राज्य सरकार जनकल्याण के क्षेत्र में निरंतर कार्यशील है। उन्होंने कहा कि इस शिविर के माध्यम से जिले के दिव्यांगजनों को आवश्यक उपकरण प्रदान किये जा रहे हैं। इससे दिव्यांग भाई- बहनों को उनके रोजमर्रा के कामकाज में सहायता मिलेगी।

इस अवसर पर जिला पंचायत अध्यक्ष संदीप पटैल, जनपद पंचायत अध्यक्ष अनुराधा धनीराम पटैल, नगर पालिका अध्यक्ष अर्चना नीरज दुबे, जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी आरपी अहिरवार, सुनील कोठारी, बंटी सलूजा, जनपद पंचायत उपाध्यक्ष रजनी सुनील जाट, राजीव ठाकुर, आरईसीएल के प्रबंधक रविकुमार सदन, एलिम्को के अधिकारी नितिन माहौर, जनपद पंचायत की मुख्य कार्यपालन अधिकारी श्वेता बिसेन, अन्य जनप्रतिनिधि, अधिकारीगण और बड़ी संख्या में नागरिकगण मौजूद थे।

उल्लेखनीय है कि जिला स्तरीय दिव्यांग परीक्षण शिविर में 6 फरवरी को भारतीय कृत्रिम अंग निर्माण निगम- एलिम्कों के सहायक उत्पादक केन्द्र जबलपुर द्वारा जिन दिव्यांगजनों को कृत्रिम अंग उपकरण के लिए चिन्हांकित किया गया था, उन दिव्यांगों को 10 मार्च के शिविर के माध्यम से कृत्रिम अंग उपकरण का वितरण किया गया। उपकरण आईसीएल की सीएसआर निधि के माध्यम से प्रदाय किये गये।

उप संचालक सामाजिक न्याय एवं नि:शक्त कल्याण प्रभात उईके ने बताया कि सामाजिक न्याय विभाग के तत्वावधान में शिविर का आयोजन किया गया। उन्होंने बताया कि जिला स्तरीय शिविर में 212 हितग्राहियों को 29 लाख 81 हजार रूपये की लागत के 482 उपकरण वितरित किये गये। इनमें बेटरी चलित ट्रायसाईकिल, ट्रायसिकल, हियरिंग एड स्मार्ट केयन, व्हील चेयर, वाकिंग स्टिक्ट, सीपी चेयर, एएफओ आदि उपकरण शामिल थे। कुछ दिव्यांगजनों को एक से अधिक उपकरण भी प्रदाय किये गये। जैसे कोई दिव्यांगजन को सुनाई भी नहीं देता और चलने में भी परेशानी होती है, तो उसे हेयरिंग एड और ट्रायसिकल दी गई। इसी प्रकार दिव्यांगजनों की आवश्यकता के अनुसार उपकरण प्रदाय किये गये।