एआईएडीएमके के दोनों गुटों का विलय, पन्नीरसेल्वम बने उप-मुख्यमंत्री

शेयर करें:

ऑल इंडिया अन्ना द्रविड़ मुनेत्र कड़गम (एआईएडीएमके) के दोनों धड़ों का विलय हो गया है। एक धड़े का नेतृत्व मुख्यमंत्री के पलानीसामी और दूसरे का पूर्व मुख्यमंत्री ओ पन्नीरसेल्वम कर रहे थे। पन्नीरसेल्वम को तमिलनाडु का उप-मुख्यमंत्री बनाया गया है। दोनों धड़ों के नेताओं ने इस मौके पर कहा कि दोनों पक्षों की सारी मांगें पूरी हो गई हैं।

पन्नीरसेल्वम ने इस मौके पर पार्टी के कार्यकर्ताओं को भी संबोधित किया। पन्नीरसेल्वम ने कहा अम्मा (जयललिता) और एआईएडीएमके लिए यह कदम उठाया जा रहा है। उन्होंने कहा कि हमारी पहली प्राथमिकता पार्टी के चुनाव चिह्न को दोबारा प्राप्त करना है। पार्टी के सभी पदाधिकारी मिलकर अम्मा के वादों को पूरा करेंगे। अम्मा ने कहा था कि उनके बाद भी एआईएडीएमके 100 सालों तक रहेगी। हम सब सुनिश्चित करेंगे कि ऐसा ही हो। कोऑर्डिनेशन कमेटी के 11 सदस्य मिलकर पार्टी को चलाएंगे।

विलय की औपचारिक घोषणा के बाद अब तमिलनाडु मंत्रिमंडल में फेरबदल किया जाएगा। जयललिता की मौत के बाद पार्टी की कमान को लेकर शशिकला और पन्नीरसेल्वम में ज़ंग छिड़ी थी। इस बीच पन्नीरसेल्वम अपने समर्थकों के साथ पार्टी से अलग हो गए। लेकिन बाद में शशिकला को भी भ्रष्टाचार के आरोप में जेल हो गई। शशिकला के जेल जाने के बाद से ही दोनों धड़ों का विलय करने की कोशिशें चल रही थीं। पिछले कुछ दिनों से पन्नीरसेल्वम और पलानीसामी समर्थकों के बीच बैठकों के दौर चल रहे थे।