मेडिकल कॉलेज की प्रतिष्ठा कायम करना सभी का दायित्व – संभागायुक्त

शेयर करें:

रतलाम @ उज्जैन संभाग आयुक्त एम.बी.ओझा ने शासकीय स्वशासी चिकित्सा महाविद्यालय रतलाम को इस पूरे क्षेत्र के लिए अनुपम सौगात बताते हुए कहा कि अभी कॉलेज की शुरुआत है और इस कॉलेज की प्रतिष्ठा को कायम करना आप सभी का दायित्व है।

इस कॉलेज की कमियों को दूर कर यहां की प्रत्येक व्यवस्था पर नजर रखें। कहीं कोई कमी नजर आती है तो उसे दूर करने के लिए स्वयं प्रयास करें। अभी आरंभिक अवस्था है इसलिए व्यवस्थाएं धीरे-धीरे पूर्ण हो रही है। अभी हमारे कार्यों से इसकी जैसी प्रतिष्ठा कायम होगी वह इसके भविष्य को भी निर्धारित करेगी। उन्होंने मेडिकल कॉलेज की व्यवस्थाओं के संबंध में मेडिकल कॉलेज सभागृह में आयोजित बैठक में पेयजल व्यवस्था, विद्युत व्यवस्था एवं अन्य व्यवस्थाओं की समीक्षा कर आवश्यक निर्देश दिए।

बैठक में कलेक्टर रुचिका चौहान, जिला पंचायत सीईओ सोमेश मिश्रा, एडीएम जितेंद्र सिंह चौहान, एसडीएम रतलाम शहर राहुल धोटे, रतलाम ग्रामीण शिराली जैन, मेडिकल कॉलेज के डीन डॉ. संजय दीक्षित सहित संबंधित अधिकारी उपस्थित थे।

संभागायुक्त ओझा ने पेयजल व्यवस्था के लिए नगर निगम आयुक्त को निर्देश देते हुए कहा कि मेडिकल कॉलेज में नगर निगम द्वारा पेयजल आपूर्ति किस प्रकार शीघ्र से शीघ्र की जा सकती है इस पर कार्यवाही करे। उन्होंने पर्याप्त पानी होने के बावजूद शहर में बार-बार होती पेयजल समस्या पर असंतोष व्यक्त करते हुए कहा कि धोलावाड़ में स्थापित दोनों पंप चलाकर पाइप लाइन टेस्ट की जाए। यदि उसमें कहीं दिक्कत आती है और पेयजल आपूर्ति बाधित होती है तो टैंकर से व्यवस्था करें लेकिन पूरी पाइपलाइन को एक बार चेक कर यह सुनिश्चित करें कि इसमें किसी तरह का कोई फॉल्ट न रहे।

उन्होंने पूर्व में शहर में बिछाई गई पाइप लाइन की समीक्षा कर उस प्रोजेक्ट के समय जिम्मेदार रहे अधिकारियों के दायित्व की जांच करने के भी निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि पाइपलाइन डालने का कार्य जिन ठेकेदारों ने किया उनकी बैठक कलेक्टर के साथ करवाएं और वे अपने दायित्व को नहीं निभाते हों तो उनके खिलाफ कार्रवाई करें।

ओझा ने कहा कि जिसकी गलती है उसे दंड अवश्य मिलना चाहिए, लेकिन अभी जो व्यवस्था है उसे सुधारा जाना आवश्यक है। बैठक में मेडिकल कॉलेज में होने वाली नियुक्तियों, एमपीआरडीसी को हस्तांतरण, बिल्डिंग मेंटेनेंस की व्यवस्था, बाउंड्री वॉल की हाइट बढ़ाने, कैंटीन आदि के लिए निर्धारण, ब्रॉडबैंड एवं स्वान कनेक्शन की व्यवस्था संबंधी बिंदुओं पर भी चर्चा की गई। डीन डॉ. संजय दीक्षित ने मेडिकल कॉलेज की व्यवस्थाओं एवं आवश्यकताओं से संबंधित जानकारी दी तथा अंत में आभार व्यक्त किया।