मां दुर्गा इस बार डोली में सवार होकर धरती पर आ रही हैं, प्राकृतिक आपदाओं और धन की हानि होने के संकेत

शेयर करें:

Shardiya Navratri 2021: इस साल शारदीय नवरात्रि 7 अक्टूबर से शुरू हो रहे हैं. वैसे हिंदू धर्म के अनुसार साल में चार बार नवरात्रि आती हैं लेकिन चैत्र और शारदीय नवरात्रि का विशेष महत्व होता है. शारदीय नवरात्रि की रौनक घरों में ही नहीं, बल्कि मंदिरों और बाजार में भी देखी जा सकती है. कहा जाता है कि नवरात्रि की पूजा व व्रत विधि-विधान से करने पर मां दुर्गा प्रसन्न होकर भक्तों की मनोकामनाएं पूर्ण करती हैं.

कब शुरू होंगे शारदीय नवरात्रि
इस साल शारदीय नवरात्रि 7 अक्टूबर से शुरू हो रहे हैं और कलश स्थापना इसी दिन सुबह की जाएगी. कलश स्थापना का शुभ मुहुर्त सुबह 6 बजकर 17 मिनट से 7 बजकर 07 मिनट तक रहेगा. 15 अक्टूबर को दशहरा मनाया जाएगा.

इस साल 8 दिन ही होंगे नवरात्र
शारदीय नवरात्र 7 अक्टूबर से शुरू हो रहे हैं और इस बार 9 की बजाय 8 दिन ही होंगे. इसका कारण है कि बार चतुर्थी और पचंमी तिथि एक साथ पड़ रही है. यानि दो तिथियां एक साथ पड़ने एक दिन घट रहा है. ऐसे में 7 अक्टूबर से 14 अक्टूबर तक शारदीय नवरात्र रहेंगे. नवरात्रि के दिनों का घटना शुभ नहीं माना जाता. 9 की बजाय 8 दिन नवरात्रि होना इस बार शुभ संकेत नहीं है.

मां दुर्गा डोली की सवारी में आएंगी
इस बार शारदीय नवरात्रि में मां दुर्गा की सवारी डोली होगी. मां दुर्गा इस बार डोली में सवार होकर धरती पर आ रही हैं. शास्त्रों के मुताबिक मां दुर्गा का डोली में आना शुभ संकेत नहीं है. इस साल नवरात्रि के दिन कम होना और मां दुर्गा का डोली पर आना दोनों ही शुभ नहीं माना जाता. कहा जाता है कि यह प्राकृतिक आपदाओं और धन की हानि होने के संकेत हैं.