एम.जी.एम. कॉलेज द्वारा कैवियट दायर

शेयर करें:

इन्दौर @ शैक्षणिक सत्र 2018-19 में यू.जी./पी.जी. पाठ्यक्रम के लिये स्वशासी,निजी चिकित्सा एवं दंत चिकित्सा महाविद्यालयों में एम.बी.बी.एस./बी.डी.एस. तथा एमडी.एमएस. स्नातकोत्तर पी.जी. पाठ्यक्रमों की सीटों पर प्रवेश हेतु राजपत्र में 9 मार्च 2018 में प्रकाशित प्रवेश नियमों एवं उसके अंतर्गत 15 मार्च 2018 से कराई जाने वाली काउंसिलिंग प्रक्रिया के विरूद्ध माननीय उच्च न्यायालय खण्डपीठ इंदौर में किसी भी पक्ष द्वारा याचिका दायर की जा सकती है।

अधिष्ठाता एम.जी.एम. मेडिकल कॉलेज इंदौर ने बताया कि अत: ऐसी स्थिति में किसी भी पक्ष द्वारा की जाने वाली याचिका में पारित होने वाले निर्णय के पूर्व माननीय उच्च न्यायालय खण्डपीठ इंदौर द्वारा मध्यप्रदेश शासन का भी पक्ष सुने जाने हेतु माननीय उच्च न्यायालय खण्डपीठ इंदौर के समक्ष केवियट प्रस्तुत की जा रही है।