जबलपुर पुलिस द्वारा मोबाईल तलाश कर धारको को वापस किये जा रहे हैं गुमे हुए 100 मोबाईल जिनकी अनुमानित कीमत आंकी गई है 12 लाख

शेयर करें:

कंट्रोल रूम में 122 मोबाईल दिये गये जिनकी अनुमानित कीमत लगभग 15 लाख रु. है, इसके पूर्व मे जबलपुर पुलिस द्वारा लगभग 1 करोड़ रूपये के गुमे मोबाईल वापस किये जा चुके हैं

जबलपुर। पुलिस अधीक्षक अमित सिंह के मार्ग निर्देशन में सायबर सेल टीम के द्वारा गुम मोबाईलो को तलाश कर मोबाईल धारको को वापस किये जा रहे हैं। वर्ष 2018 में गुम हुए 318 मोबाईल जिनकी अनुमानित कीमत लगभग 35 लाख रु. है मोबाईल धारकों को वापस किये गये है। वर्ष 2019 में गुम हुए 512 मोबाईल जिनकी अनुमानित कीमत लगभग 63 लाख 25 हजार रु. है मोबाईल धारकों को वापस किये गये है। वर्ष 2020 के प्रथम चरण में 122 गुमें मोबाईल को सायबर सेल की टीम के द्वारा तलाश कर पुलिस अधीक्षक जबलपुर अमित सिंह द्वारा संबंधित मोबाईल धारकों को कंट्रोल रूम में 122 मोबाईल दिये गये जिनकी अनुमानित कीमत लगभग 15 लाख रु. है।

इसी प्रकार वर्ष 2020 के द्वितीय चरण में 100 गुमें मोबाईल को सायबर सेल की टीम के द्वारा तलाशा गया है। तलाशे गये उक्त 100 मोबाईलों को जिनकी अनुमानित कीमत लगभग 12 लाख रु. है, आज दिनाँक 14.02.2020 को पुलिस अधीक्षक जबलपुर श्री अमित सिंह (भा.पु.से.) द्वारा संबंधित मोबाईल धारकों को कंट्रोल रूम में दिये गये ।

पुलिस अधीक्षक जबलपुर अमित सिंह ने आम नागरिकों से अपील की है कि गुमें हुए मोबाईल की शिकायत संबंधित थाने में करते हुए उस शिकायत की छाया प्रति एवं मोबाईल बिल की छायाप्रति को सायबर सेल जबलपुर हेल्प लाईन नम्बर 7587616100 पर भेजें ताकि गुम हुए मोबाईल का शीघ्रता से पता किया जा सके ।

इनकी रही सराहनीय भूमिका

अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक अपराध शिवेश सिंह बघेल के मार्ग निर्देशन में गुम हुए मोबाईल की तलाश कर उनकी बरामदगी में सायबर सेल से उपनिरीक्षक नीरज सिंह नेगी, आरक्षक राजेश शर्मा, जयेन्द्र इनवाती ,राजा मिश्रा, आदित्य परस्ते, चन्द्रिका पडवार, सौरभ शुक्ला, नवनीत चक्रवर्ती, अभिषेक मिश्रा, भगवान सिंह, अभिदीप भट्टाचार्य, कृष्णा तिवारी, दीपक मिश्रा की सराहनीय भूमिका रही । पुलिस अधीक्षक जबलपुर श्री अमित (भा.पु.से.) ने टीम को नगद पुरूस्कार से पुरूस्कृत करने की घोषणा की हैं ।