45 वर्ष से अधिक आयु वर्ग के लोगों को लगाई जा रही है कोविड वैक्सीन

शेयर करें:

रायसेन @ कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए जिले में 45 वर्ष से अधिक आयु के सभी लोगों को कोविड वैक्सीन लगाने का कार्य प्रारंभ हो गया। अब 45 वर्ष से अधिक आयु वर्ग के नागरिकों को वैक्सीनेशन के लिये को-मोर्विड प्रमाण-पत्र की आवश्यकता नहीं है। जिले में कोविड वैक्सीनेशन के लिए बनाए गए 59 सेन्टर्स पर 45 वर्ष से अधिक आयु के लगभग 6210 नागरिकों ने पहुंचकर वैक्सीन लगवाई। जिले में कोविड वैक्सीनेशन के लिए सभी जरूरी इंतजाम किए गए हैं। नागरिकों को वैक्सीन लगवाने के लिए जागरूक भी किया जा रहा है।

सीएमएचओ डॉ दिनेश खत्री ने बताया कि एक अप्रैल से जिले में 59 वैक्सीनेशन सेंटर्स पर 45 वर्ष से अधिक आयु के नागरिकों का वैक्सीनेशन प्रारंभ हो गया है। उन्होंने बताया कि एक अप्रैल को जिले में 45 वर्ष से अधिक आयु के 4138 नागरिकों के वैक्सीनेशन का लक्ष्य निर्धारित किया गया था जिसके विरूद्ध 6210 नागरिकों को कोविड वैक्सीन लगाई गई है। नागरिकों में भी कोविड वैक्सीनेशन के प्रति उत्साह है। उन्होंने जिले के 45 वर्ष से अधिक आयु के सभी नागरिकों से अपील की है कि वे अपने नजदीकी कोविड वैक्सीनेशन सेंटर पहुंचकर वैक्सीन अवश्य लगवाएं। कोविड वैक्सीन पूरी तरह सुरक्षित है।

भारत तके करोड़ों लोग कोरोना का टीका लगवा चुके हैं। अब 45 वर्ष से अधिक उम्र के व्यक्तियों का यह चरण शुरू हुआ है। उन्हें बताया कोविड-19 वेक्सीनेषन हेतु co-win 2.0 पोर्टल के माध्यम से अग्रिम पंजीयन करा सकते है। एक भी व्यक्ति कोविड वैक्सीन से वंचित ना रहे, इसके लिए गॉवों और नगरों में लोगों को वैक्सीन लगवाने के लिए जागरूक किया जा रहा है। उन्होंने बताया कि कोविड वैक्सीनेशन के लिए आने के दौरान नागरिकों को आधार कार्ड साथ लाना जरूरी है।