कोरेगांव हिंसा: जिग्नेश, ख़ालिद के ख़िलाफ़ एफ़आईआर

शेयर करें:

उपराष्ट्रपति वेंकैया नायडू ने कोरेगांव हिंसा के मामले पर महाराष्ट्र में शांति बनाए रखने की अपील की, हिंसा का मुद्दा राज्यसभा में उठा। जिग्नेश मेवाणी और उमर खालिद के ख़िलाफ़ भड़काऊ भाषण देने के आरोप में एफ़आईआर दर्ज किए गए तो वहीं कुछ असामाजिक तत्वों को पुलिस ने हिरासत में लिया।

भीमा-कोरेगांव में हुई हिंसा का मुद्दा लगातार गर्माया हुआ है। महाराष्ट्र पुलिस ने इस मामले में गुजरात के विधायक और दलित कार्यकर्ता जिग्नेश मेवाणी और जेएनयू के छात्रनेता उमर खालिद के खिलाफ केस दर्ज कर लिया है। दोनों पर हिंसा को भड़काने का आरोप लगाया गया है। पुणे के विश्रामबाग पुलिस स्टेशन में आईपीसी की धारा 153 ए, 505 और 117 के तहत यह केस दर्ज किया गया है।