कोहली का 30वां शतक, श्रीलंका को 5-0 से किया क्लीन स्वीप

शेयर करें:

भारत ने कोलंबो में खेले गए पांचवें वनडे मैच में श्रीलंका को हराकर पांच मैचों की सिरीज़ को क्लीन स्वीप कर लिया है.
श्रीलंका के 238 रन का पीछा करते हुए भारत ने 47वें ओवर में छह विकेट से जीत दर्ज की. भुवनेश्वर कुमार मैन ऑफ द मैच रहे. पांच मैचों की सिरीज़ में 15 विकेट लेकर बुमराह मैन ऑफ द सिरीज़ रहे. मैच में कप्तान विराट कोहली ने 107 गेंदों में शतक जड़ते हुए नाबाद 110 रन बनाए.

लक्ष्य का पीछा करते हुए विराट का ये 19वां शतक है. इसी के साथ साल 2017 में कप्तान विराट कोहली ने अपने एक हजार रन पूरे कर लिए हैं. कोहली ने पूर्व ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ी रिकी पॉन्टिंग के 30 शतकों की बराबरी कर ली है. पॉन्टिंग ने 365 वन मैच खेलकर 30 शतक बनाए थे. जबकि कोहली ने 186वें मैच में इस रिकॉर्ड को छू लिया है. वनडे मैचों में सबसे ज्यादा 49 शतक का रिकॉर्ड सचिन तेंदुलकर के नाम है.

कोहली के अलावा मैच में जाधव ने 73 गेंदों में 63 रन बनाए. जबकि रोहित शर्मा 16 और रहाणे 5 रन बनाकर आउट हो गए. भारतीय गेंदबाजों ने भी मैच में शुरू से ही श्रीलंका के बल्लेबाजों को बांधे रखा. भुवनेश्वर कुमार ने 5 विकेट झटके. जसप्रीत बुमराह को दो और कुलदीप यादव और युजवेंद्र चहल को 1-1 सफलता हाथ लगी.

श्रीलंका का प्रदर्शन
पांचवें मैच में पहले बल्लेबाजी करते हुए श्रीलंका ने 238 रन बनाए थे. बारिश के कारण मैच 40 मिनट देरी से शुरू हुआ. श्रीलंका की पूरी टीम ने 49.4 ओवर में 238 रन बनाए थे. श्रीलंका की तरफ से थिरिमाने (67) और एंजेलो मैथ्यूज (55) ने अर्धशतक बनाए, जबकि उपुल थरंगा 48 रन बनाकर आउट हुए.

भारत ने इस मैच के लिए अपनी टीम में चार बदलाव किए थे. शिखर धवन, के एल राहुल, हार्दिक पांड्या और अक्षर पटेल की जगह अजिंक्या रहाणे, केदार जाधव, भुवनेश्वर कुमार और युजवेंद्र चहल को खेलने का मौका मिला. इससे पहले खेली गई टेस्ट सिरीज़ में भी टीम इंडिया 3-0 से जीत दर्ज करने में कामयाब रही थी.

धोनी ने भी बनाया रिकॉर्ड
श्रीलंका के ख़िलाफ़ कोलंबो वनडे में माही ने 100 स्ंटपिंग के आंकड़े को छू लिया. ऐसा करने वाले धोनी दुनिया के पहले विकेटकीपर बन गए हैं. धोनी ने ये कीर्तिमान 301 मैचों में हासिल किया. स्टंपिंग के मामले में धोनी से पीछे श्रीलंका के पूर्व कप्तान और विकेटकीपर कुमार संगकारा हैं. संगाकारा ने 404 वनडे मैचों में 99 खिलाड़ियों को स्टंप आउट किया था. विकेट के पीछे धोनी हमेशा ही काफी तेज़ रहे हैं.