कलयुगी माँ ने अपनी ही 12 वर्षीय बेटी को बेचा

शेयर करें:

 कलयुगी माँ ने अपनी ही 12 वर्षीय बेटी को बेच दिया, एक माँ द्वारा किया गया कृत्य, जो  खुद की संतान का सौदा करे इससे दुखद एक मासूम के लिए क्या होगा ।

जबलपुर @ रद्दी चौकी अधारताल के अख्तर खान (काल्पनिक नाम) की मुलाकात नागपुर मे लकडगंज थाना अन्तर्गत गंगा जमुना बस्ती में एक 23 वर्षीय युवती नेहा (काल्पनिक नाम) से मुलाकात हुई जिसने स्वयं को लगभग 12 साल की उम्र मे विष्णो बाई धनावत को बेचे जाने तथा विष्णो बाई द्वारा अनैतिक देह व्यापार का धंधा जबरदस्ती कराने की बात बतायी, साथ ही थाना कुण्डम के अन्तर्गत रहने वाले अपने चाचा, भाई एवं बुआ के बारे मे बताया। अख्तर खान ने जबलपुर वापस आकर नेहा के बताए अनुसार रिश्तेदारो की तलाश की एवं उन्हें पूरी बात बतायी, जिस पर रिश्तेदार बुआ एवं चाचा ने पुलिस अधीक्षक जबलपुर शशिकांत शुक्ला से सम्पर्क कर पूरी घटना बतायी ।

गोरखपुर द्वारा चौकी प्रभारी धनंवतरी नगर अरूणा वाहने के नेतृत्व मे थाना गढा मे पदस्थ . बी.एस. नर्ते, आरक्षक संतलाल एवं महिला आरक्षक मंजरी की एक टीम गठित कर रवाना की गयी, टीम ने नागपुर पहुचकर थाना लकडंगंज से सम्पर्क किया थाना लकडगंज की पुलिस के सहयोग से गंगा जमुना बस्ती मे विष्णो बाई धनावत के अड्डे पर दबिश दी गयी जहां नेहा मिली जिसे जबलपुर लाया गया । नेहा ने बताया कि वह थाना कुण्डम क्षेत्र की रहने वाली है, पढी लिखी नहीं है, उसके पिता दीमागी रूप से कमजोर थे, जब वह छोटी थी तब उसकी माँ उसके पिता एंव भाई को छोडकर उसे साथ लेकर अधारताल मे रहने लगी थी, जब वह 11-12 साल की थी, उस समय माँ ने उसे बुआ के घर जो रतननगर गढा के पास छोड दिया था और कहीं चली गयी थी।

करीब 4-5 माह बाद एक दिन माँ आयी और उसे बुआ के घर से अपने साथ लेकर नागपुर चली गयी, और नागपुर मे विष्णो बाई धनावत जो गंगा जमुना बस्ती मे रहती थी, छोड कर उसे बिना बताये चली गयी, उसने जब माँ के बारे मे पूछा तो वहाँ के लोगो ने और विष्णो बाई ने बताया कि तुम्हारी माँ ने तुम्हें 80 हजार रूपये में मुझे बेच दिया है, विष्णो बाई जबरदस्ती उससे देह व्यापार का धंधा कराती थी, बाहर नहीं निकलने देती थी, मना करने पर मारती पीटती एवं खाना नहीं देती थी, कई बार उसने भागने का प्रयास किया लेकिन भाग नहीं पायी। कुछ दिन पहले रद्दी चौकी अधारताल के एक व्यक्ति से उसने जिसे उसने अपनी आप बीती सुनाई थी। थाना गढा में नेहा (काल्पनिक नाम) की रिपोर्ट पर माँ एवं विष्णो बाई धनावत के विरूद्ध अपराध पंजीबद्ध किया गया और शामिल आरोपियों को तलाशा जा रहा है।