मूल भू-स्वामियों को नहीं लगाने पड़ेंगे JDA के चक्कर,निश्चित समय सीमा में बनाई जाएगी लीज

शेयर करें:
जेडीए की योजनाओं में जबलपुर विकास प्राधिकरण द्वारा भूमि अधिग्रहण के बाद मूल भूमि स्वामियों को अब मुआवजा पाने के लिए जेडीए कार्यालय के चक्कर नहीं लगाने पड़ेंगे। नियमानुसार मूल भूमि स्वामियों के नाम मुआवजे में शामिल भूमि की लीज एक निश्चित समय में बनाई जाएगी। इसी के तहत योजना क्रमांक 41 के मूल भूमि स्वामियों को मिलने वाली भूमि की नियमानुसार लीज प्रदान की गई।
जेडीए अध्यक्ष डॉ.विनोद मिश्रा ने कहा कि प्राधिकरण की योजना क्रमांक 41 में समझौते के तहत मूल भूस्वामियों को प्राप्त भूखंडों का पंजीयन न्यूनतम राशि में प्रारंभ कर दिया गया है। मध्यप्रदेश शासन वाणिज्यिक कर विभाग द्वारा जारी आदेश के अनुसार मूल भूमि स्वामियों को यह सुविधा दी जा रही है।