परमाणु समझौते को निरस्त कर सकता है ईरान: खामेनी

शेयर करें:

ईरान के सर्वोच्च नेता आयतुल्ला अली खामेनी ने कहा यदि देश के हितों को फायदा नहीं होता और सरकार पर आर्थिक तथा राजनीतिक दबाव बनाया जाता है तो वह विश्व शक्तियों के साथ अपने परमाणु समझौते को निरस्त कर सकता है।

ईरान के सर्वोच्च नेता अयातुल्ला अली खमनेई ने कहा है कि यदि देश के हितों को फायदा नहीं होता और सरकार पर आर्थिक तथा राजनीतिक दबाव बनाया जाता है तो वह विश्व शक्तियों के साथ अपने परमाणु समझौते को निरस्त कर सकता है। खामेनी ने कहा कि समझौते से अमेरिका के हटने के बाद मुद्दे के समाधान के लिए हो रहे यूरोपीय प्रयासों के बावजूद ईरान को यूरोप से उम्मीद नहीं रखनी चाहिए।

अमेरिकी प्रतिबंध फिर से लगने के कारण ईरान के राष्ट्रपति हसन रूहानी की सरकार परेशानियों का सामना कर रही है क्योंकि विदेशी कंपनियां तेजी से देश छोड़ रही हैं और बड़े पैमाने पर निवेश आकर्षित करने की रूहानी की उम्मीदें धूमिल हो रही हैं।