लोकसभा से पास हुआ इन्सोल्वेंसी एंड बैंकरप्सी कोड, घर खरीदारों को होगी बडी राहत

शेयर करें:

मंगलवार को दोपहर बाद लोकसभा में दिवाला और शोधन अक्षमता संहिता विधेयक 2018 चर्चा के बाद पारित किया गया। इस विधेयक के प्रावधान में घर खरीददारों से प्राप्त आय को कर्ज माना जायेगा।

लोकसभा में आज घर खरीददारों को अधिक अधिकार देने से संबधित दिवाला और शोधन अक्षमता संहिता में दूसरे संशोधन से जुड़े विधेयक को भी चर्चा के बाद पारित कर दिया गया। चर्चा का जबाब देते हुये वित्त मंत्री पीयूष गोयल ने बताया कि बदलावों के जरिये बैंको को मजबूत बनाने का काम किया जा रहा है।

गृह मंत्री राजनाथ सिंह प्रश्नकाल के दौरान बताया कि राज्यों को एडवाइजरी जारी कर कहा गया है कि वे अपने-अपने राज्यों में रोहिंग्याओं की संख्या के बारे में वे गृह मंत्रालय को सूचना दें। मंगलवार को दोपहर बाद लोकसभा में दिवाला और शोधन अक्षमता संहिता विधेयक 2018 चर्चा के बाद पारित किया गया। इस विधेयक के प्रावधान में घर खरीददारों से प्राप्त आय को कर्ज माना जायेगा।

यानि रियल इस्टेट परियोजनाओं में बिल्डर के खिलाफ घर खरीददारों को भी समाधान प्रकिया शुरू करने का अधिकार होगा। इसके साथ ही घर खरीददारों को कर्जदाताओं की समिति में भी जगह मिल सकेगी। इस विधेयक के संसद के दोनो सदनो से पारित होने के बाद घर खरीददारों को बड़ी राहत मिलेगी ।चर्चा का जबाब देते हुये वित्त मंत्री ने बताया कि सरकार बैंको को मजबूत बनाने का काम कर रही है।

रोंहिग्या से जुड़े सवाल पर गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने लोकसभा में जबाब दिया।गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने कहा कि राज्य सरकारो को रोहिंग्या के बारे में एडवाजरी जारी कर दी गई है और उनके मूवमेंट पर नजर ऱखने को कहा गई है। उन्होंने बताया कि राज्यों को गिनती कर रोहिग्यां की पूरी जानकारी देने को कहा गया है जिससे रिपोर्ट आने के बाद विदेश मंत्रालय के माध्यम से बात कर उन्हें म्यामां वापस भेजा जा सके।

लोकसभा में सरकार जल्द से जल्द उन विधेयको को पारित कराना चाहती है जिसके लिये अध्यादेश लाया गया था। उसके बाद इसी सप्ताह सरकार सदन के पटल पर ओबीसी आयोग को संवैधानिक दर्जा देने से संबधित विधेयक को जल्द से जल्द सदन के पटल पर रखा जायेगा।