कौशाम्बी : अंधविश्वास और शक के चलते हुई थी मासूम की हत्या, पुलिस ने किया खुलासा

शेयर करें:

कौशाम्बी. यूपी के कौशाम्बी में अंधविश्वास और शक के चलते दो साल के मासूम शिवा को अपनी जान गवानी पड़ी. जिसका खुलासा कोखराज पुलिस ने आखिरकार खुलासा कर किया है. पुलिस अफसरों ने आरोपितों के इकबालिया बयान के आधार पर भूत प्रेत जैसी दनियानूसी बात का जिक्र किया है. दरअसल हसनपुर गांव में शुक्रवार की रात बच्चे की हत्या की बात सामने आई.

सूचना के बाद मौके पर पहुंची कोखराज पुलिस ने बच्चे की लाश पड़ोसी के घर में एक भूसे से ढेर से बरामद की. तहकीकात में लाश की शिनाख्त शिवा के रूप में हुई. जिसकी उम्र महज दो साल उसके घर के लोगों ने बताई. शिवा के बड़े पापा के मुताबिक शिवा अपने घर के बाहर शाम को खेल रहा था और अचानक गायब हो गया. जिसके बाद उसकी लाश पड़ोसी राम सूरत के घर में मिली. राम सूरत व उसका परिवार उनसे रंजिश रखता था.

मासूम शिवा की हत्या की जानकारी मिलते ही एसपी समेत पुलिस के अन्य अधिकारी भी मौके पर पहुंचे. जाँच के दौरान शिवा के परिवार वालो ने पड़ोसी राम सूरत पर हत्या का शक जाहिर किया. पुलिस ने राम सूरत के परिवार की महिलाओ को गिरफ्तार कर पूछताछ शुरू की. तहकीकात के दौरान पुलिस के सामने महिलाओ ने शिवा की हत्या के पीछे अंधविश्वास की ऐसी कहानी पुलिस को बताई, जिसे सुन पुलिस के जाँच अधिकारियो का दिमाग चक्कर खा गया.

एएसपी समर बहादुर के मुताबिक घटना के कुछ देर बाद पुलिस ने शिवा हत्या कांड के फरार अभियुक्त राम सूरत समेत उसके घर की दो महिलाओ को गिरफ्तार कर लिया. पूछताछ में आरोपितों ने शिवा की हत्या में अपने इकबालिया जुर्म को कबूल करते हुए बताया कि उन्होंने शिवा की हत्या इसलिए कर दी क्योकि उनके बच्चे की कुछ महीने पहले मौत शिवा के माँ पिता के द्वारा भेजे गए भूत के चलते हुई थी. जिसका बदला लेने के लिए उन्होंने शिवा को मौत के घात उतार दिया.