श्रीलंका के खिलाफ भारत का दूसरा वनडे आज

शेयर करें:

श्रीलंका के खिलाफ पहले मैच में 9 विकेट से शानदार जीत हासिल करने के बाद भारत और श्रीलंका के बीच पांच वनडे मैच की सीरीज़ का दूसरा मुक़ाबला आज पल्लेकल में खेला जाएगा।

भारत और श्रीलंका के बीच पांच वनडे मैच की सीरीज़ का दूसरा मुक़ाबला आज पल्लेकल में खेला जाएगा। गेंदबाज़ी की बात करें तो युजवेंद्र चहल और अक्षर पटेल की जोड़ी का दूसरा वनडे में बने रहना लगभग तय है क्योकि इसमें से एक लेग ब्रेक तो दूसरा बांए हाथ का स्पिनर है। पल्लेकल में टीम इंडिया ने श्रीलंका के ख़िलाफ़ अब तक केवल 1 वनडे मैच खेला है जिसमें टीम को जीत हासिल हुई है।

वहीं श्रीलंका की बात करे तो टीम को पहले वनडे में जिस तरह से करारी हार का मुंह देखना पड़ा, उसके बाद से खिलाड़ी से लेकर चयनकर्ता सभी आलोचकों के निशाने पर है। टीम अगर इस सीरीज़ में दो मुक़ाबले नहीं जीत पाती है तो विश्व कप के लिए सीधे क्वालीफाई करने का रास्ता भी उसके लिए बंद हो जाएगा।

विराट की विनिंग सेना की विजयी हुंकार जारी है, दांबुला के बाद अब पल्लेकल को जीतने की बारी है। 2019 विश्व कप की तैयारी को ध्यान में रखकर उभरते हुए युवा सितारों से लबरेज़ ब्लू ब्रिगेड श्रीलंका को बख्शने के मूड में बिल्कुल दिखाई नहीं दे रही। पहले वनडे को टीम ने शानदार तरीके से 9 विकेट से जीता जिसमें शिखर धवन का 71 गेंदों में धमाकेदार शतक शामिल रहा।

फिर कप्तान विराट कोहली की 82 रन की नॉट आउट पारी का क्या कहना।लेकिन रोहित शर्मा के बल्ले से रन का निकल पाना जरूर ख़टक रहा है। गेंदबाज़ी डिपार्टमेंट में युजवेंद्र चहल और अक्षर पटेल की जोड़ी का दूसरा वनडे में बने रहना लगभग तय है क्योकि इसमें से एक लेग ब्रेक तो दूसरा बांए हाथ का स्पिनर है। हालांकि लंका की पिच तीन स्पिनरों के लायक नहीं दिखती ऐसे में तीसरे स्पिनर को उतारने की संभावना न के बराबर नज़र आती है।

श्रीलंका की बात करे तो इस समय टीम अपने सबसे ख़राब दौर से गुजर रही है। बड़े खिलाड़ियों के जाने का इस टीम को झटका इस कदर लगा है कि पूरी टीम का संतुलन बिगड़ा हुआ है,न बल्लेबाज़ी चल रही है न गेंदबाज़ी।इस टीम को सबसे ज्यादा ज़रूरत खुद पर विश्वास बनाए रखने की है,पहले वनडे में टीम ने अच्छी शुरूआत तो की लेकिन एक बार फिर अनुभव की मार ने इस टीम का सारा खेल बिगाड़ दिया,कप्तान उपुल थरंगा का फ्लॉप प्रदर्शन इस टीम के लिए एक और सिरदर्द बन गया है।

इस पर मुसीबत को बढ़ाने वाला दूसरा पहलूं ये है कि टीम अगर इस सीरीज़ में दो मुक़ाबले नहीं जीत पाती है तो विश्व कप के लिए सीधे क्वालीफाई करने का रास्ता भी उसके लिए बंद हो जाएगा।यानि ये टीम इस समय मुसीबत के जिस मकड़जाल में फंसी है उससे निकल पाने का टीम के पास सिर्फ एक ही रास्ता है वो है दमदार प्रदर्शन जिस पर फिलहाल टीम का कोई खिलाड़ी परफेक्ट नहीं दिख रहा है।