विद्यालयों व छात्रावासों के कैम्पस में लगे रतनजोत के पौधों को तत्काल कटवायें-संयुक्त संचालक शिक्षा

शेयर करें:

शहडोल @ संयुक्त संचालक लोक शिक्षण शहडोल संभाग शहडोल ने शहडोल संभाग के सभी जिला शिक्षा अधिकारियों, सहायक आयुक्त जनजातीय कार्यविभाग एवं जिला परियोजना समन्वयको को पत्र जारी करते हुये कमिश्नर शहडोल संभाग के निर्देशों का हवाला देते हुये निर्देशित किया है कि विद्यालय के आसपास अथवा कैम्पस में रतन जोत के बीज को अन्य खाद बीज समझकर यदाकदा बच्चों के द्वारा सेवन किया जाता है। जिससे (जहरीला बीज होने के कारण) बच्चों के स्वास्थ्य पर विपरीत असर पड़ता है।

अतः शहडोल संभाग के अंतर्गत आने वाले सभी जिला शिक्षा अधिकारियों, सहायक आयुक्त आदिवासी विकास एवं जिला परियोजना समन्वयक जिला शिक्षा केंद्र को निर्देशित किया जाता है कि वे अपने जिले में स्थित शासकीय मॉडल स्कूलों, हायर सेकेण्ड्री स्कूल, हाई स्कूल, शासकीय माध्यमिक विद्यालय, शासकीय प्राथमिक विद्यालय, छात्रावास, शासकीय आश्रम तथा कस्बूरबा छात्रावास आदि के भवन के कैम्पस अथवा भवन के आसपास यदि रतनजोत के पौधे लगे हुये हों तो उन्हें तत्काल कटवायें जाने अथवा जड़ सहित उखाड़कर दूर फेंकने की कार्यवाही सुनिश्तिच करें जिससे उसके फलों का सेवन अध्ययन करने वाले बच्चे न कर सकें।