अगर डेयरी बिजनेस शुरू करना चाहते हैं तो सरकार देगी 75% खर्च की मदद

शेयर करें:

अगर डेयरी बिजनेस शुरू करना चाहते हैं तो सरकार की मुद्रा स्कीम के जरिए 75 फीसदी तक खर्च की मदद मिल सकती है. वहीं, आप शुरूआती स्तर पर सालाना 6 लाख रुपये तक इनकम कर सकते हैं. एफएमसीजी सेक्टर में मार्केट पर मजबूत पकड़ बनाने के बाद अब बाबा रामदेव की पतंजलि दूध, दही और छाछ के जरिए डेयरी बिजनेस में भी उतर चुकी है. असल में डेयरी प्रोडक्ट की मांग हर घर में है, जिससे डेयरी कंपनियों को मुनाफे की संभावना ज्यादा रहती है. आए दिन कोई न कोई नया प्रोडक्ट मार्केट में आता ही रहता है.

आपके पास भी इस बिजनेस में आने का मौका है, जिसमें आपकी मदद खुद मोदी सरकार कर रही है. अगर डेयरी मैन्युफैक्चरिंग यूनिट शुरू करना चाहते हैं तो इस काम में सरकार की मुद्रा स्कीम के जरिए आपको 75 फीसदी तक खर्च की मदद मिल सकती है. वहीं, आप शुरुआती स्तर पर भी सालाना 6 लाख रुपये यानी 50 हजार रुपये तक मंथली इनकम कर सकते हैं. जानें पूरी डिटेल…..

ऐसा है प्रोजेक्ट रिपोर्ट

सरकार ने मुद्रा स्कीम के तहत जिन बिजनेस के बारे में प्रोजेक्ट रिपोर्ट तैयार की है, उसमें डेयरी प्रोडक्ट बिजनेस भी है. रिपोर्ट के अनुसार कुल 16 लाख रुपये के खर्च में 1000 वर्गफुट एरिया में यूनिट शुरू की जा सकती है. इतने एरिया में शुरू होने वाले यूनिट में रोज 500 लीटर दूध की खपत में प्रोडक्ट तैयार किए जा सकते हैं.

सिर्फ 4 लाख करना होगा खर्च

इन 16 लाख रुपये में आपको 4 लाख रुपए निवेश करना होगा. बाकी खर्च सरकार मुद्रा योजना के तहत लोन के रूप में देगी, जिसमें टर्म कैपिटल लोन और वर्किंग कैपिटल लोन शामिल है. 16 लाख में से मशीन लगाने पर 5.5 लाख रुपये खर्च होगा, वहीं रॉ मैटेरियल पर सालाना 4 लाख रुपये खर्च होगा. हर महीने कर्मचारियों की सैलरी पर 50 हजार रुपये खर्च होगा. वहीं, इसमें ट्रांसपोर्ट, बिजली का बिल, टैक्स, टेलिफोन आदि का खर्च भी शामिल है.

हर महीने अच्छी इनकम

प्रोजेक्ट रिपोर्ट के अनुसार अगर रोज 500 लीटर या सालाना 1.5 लाख लीटर दूध की प्रॉसेसिंग से जितना प्रोडक्ट तैयार होगा, सालाना टर्न ओवर 82 लाख रुपये तक हो सकता है. इतने प्रोडक्ट बनाने की कुल प्रोडक्शन कास्ट 74 लाख रुपए होगी. यानी बिना टैक्स दिए सालाना 8 लाख रुपए आय होगी. इसमें से टैक्स आदि का 25% खर्च काटने के बाद नेट प्रॉफिट 6 लाख रुपये सालाना या 50 हजार रुपये मंथली होगा.

पूरी डिटेल के लिए देखें वेबसाइट: https://www.mudra.org.in/