मुख्यधारा में लौटने वाले युवाओं को पूरी मदद: गृहमंत्री

शेयर करें:

जम्मू-कश्मीर में शांति स्थापित करने के लिये सरकार और सुरक्षाबल कई मोर्चों पर काम कर रहे हैं. जहां आतंकियों के प्रति जीरो टालरेंस पॉलिसी अपनाई जा रही है तो वहीं रास्ता भटक चुके राज्य के युवाओं के लिये नई नई पहल चलाई जा रही है, जिसका फायदा भी मिलता नज़र आ रहा है

सुरक्षा एजेंसियों ने कश्मीर के भटके हुए युवाओं को आतंक का रास्ता छोड़कर वापस मुख्यधारा में आने का एक मौका दिया है. इसके लिये 14411 नम्बर से एक टोल फ्री हेल्पलाइन जारी की गई है. आतंक की राह से लौटने में मदद करने वाली इस हेल्पलाइन को ‘मददगार’ नाम दिया गया है. यह उन भटके हुए स्थानीय युवाओं की मदद करेगी जो घाटी में आतंक की राह पर चल पड़े हैं और अब वापस मुख्यधारा में लौटना चाहते हैं.

यह कदम फुटबॉलर से आतंकी बने माजिद खान के सरेंडर के बाद उठाया गया है जो दो दिन पहले ही आतंकियों का साथ छोड़ वापस अपने घर लौटा है. ऐसे ही भटके हुए नौजवानों के परिवारों से भी अपील की गई है कि वो कश्मीर के युवाओं से हिंसा का रास्ता छोड़कर वापस समाज की मुख्यधारा में शामिल होने का अनुरोध करें. वहीं, गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने कहा कि आतंक का रास्ता छोड़ने वाले युवाओं की पूरी मदद की जायेगी.

इस बीच सरकार और सुरक्षाबलों की कोशिशों के बीच घाटी के युवा माजिद के बाद आतंक का रास्ता चुनने वाले एक और युवक ने घर वापसी की है. साउथ कश्मीर के रहने वाले एक युवक ने परिजनों की अपील पर वापस घर लौटने का फैसला किया है. वहीं सरकार ने एक तरफ आतंक का रास्ता छोड़ने वालों के प्रति नरमी के संकेत दिये हैं वहीं आतंकी गतिविधियों के प्रति ज़ीरो टोलरेन्स की नीति अपनाने की घोषणा की है.

उधर केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने कश्मीर में आईसआइस की मौजूदगी से इनकार किया है. इस बीच जम्मू-कश्मीर के पुलवामा जिले के त्राल में सुरक्षा बलों के साथ मुठभेड़ में एक आतंकवादी के मारे जाने की खबर है. इलाके में सेना द्वारा घेराबंदी और खोज अभियान शुरू कर दिया गया है इसके अलावा साउथ कश्मीर में शोपियां के कई गांवों अम्शीपोरा, चितरपुर, शम्सीपोरा, रामनगरी में सर्च अभियान जारी है.

गौरतलब है कि शनिवार को उत्तर कश्मीर के बांदीपुरा के हाजिन में आतंकियों के खिलाफ सुरक्षाबलों को बड़ी कामयाबी मिली थी. सुरक्षाबलों ने मुंबई आतंकी हमले के आरोपी जकीरउर रहमान लखवी के भांजे समेत 6 आतंकियों को मार गिराया था.