डेरा प्रमुख मामले के मद्देनज़र हरियाणा, पंजाब में हाई अलर्ट

शेयर करें:

डेरा सच्चा सौदा प्रमुख राम रहीम सिंह पर आने वाले फैसले के मद्देनज़र पंचकुला में लगा राम रहीम के अनुयायियों का जमावड़ा लगा हु्आ है। हरियाणा और पंजाब सरकार ने निषेधाज्ञा लागू किया।

डेरा सच्चा सौदा के प्रमुख गुरमीत राम रहीम पर दुष्कर्म के एक मामले में 25 अगस्त को एक आदालत का फैसला आना है जिसे लेकर उनके समर्थको के लामबंद होने की खबरो के बीच पुलिस ने सतर्कता बढा दी है। हरियाणा के कई इलाको में शांति बनाये रखने के लिये केन्द्रीय बल भी लगाया गया है। प्रशासन ने एहतियातन सभी शिक्षण संस्थानों में 3 दिनों की यानि 23, 24 और 25 अगस्त तक छुट्टी कर दी है।

साथ ही हरियाणा सरकार ने तुरंत प्रभाव से सभी बड़े अधिकारियों की छुट्टी भी रद्द कर दी है। राज्य में शांति व्यवस्था बरकरार रखने के लिए केंद्र की तरफ से अर्धसैनिक बलों की 43 कंपनियां भी तैनात कर दी गई हैं। डेरा समर्थकों की भारी तादाद को देखते हुए पंचकूला में और 8 कंपनियां तैनात कर दी गई है।

हरियाणा के पंचकुला की सीबीआई की विशेष अदालत दुष्कर्म के एक मामले में 25 अगस्त को फैसला देने वाली है जिसमें डेरा सच्चा सौदा प्रमुख गुरमीत राम रहीम सिंह आरोपी हैं। गुरमीत राम रहीम पर उनकी पूर्व महिला अनुयायी ने डेरा शिविर में उससे कई बार दुष्कर्म किए जाने का आरोप लगाया है।

पुलिस की परेशानी इसलिए बढ़ गई है क्योंकि गुरमीत राम रहीम के पंजाब, हरियाणा और दूसरे राज्यों में लाखों अनुयायी हैं और हजारों की तादाद में उनके अनुयायी पंचकुला पहुंच रहे हैं जिससे की पुलिस के सामने कानून और व्यवस्था की स्थिति पैदा हो गई है। हालांकि पुलिस प्रशासन ने पंचकुला से लगती सभी सीमाओं को सील कर दिया है और आने जाने वाली तमाम गाड़ियों की गहन तलाशी ली जा रही है।

बुधवार से रोडवेज की बसें भी चंडीगढ़, पंचकुला नहीं जाएंगी। प्रशासन ने एहतियातन सभी शिक्षण संस्थानों में 3 दिनों की यानि 23, 24 और 25 अगस्त तक छुट्टी कर दी है। साथ ही हरियाणा सरकार ने तुरंत प्रभाव से सभी बड़े अधिकारियों की छुट्टी भी रद्द कर दी है। राज्य में शांति व्यवस्था बरकरार रखने के लिए केंद्र की तरफ से अर्धसैनिक बलों की 43 कंपनियां भी तैनात कर दी गई हैं। डेरा समर्थकों की भारी तादाद को देखते हुए पंचकूला में और 8 कंपनियां तैनात कर दी गई है। हालांकि पुलिस का दावा है कि वह हर परिस्थिति से निपटने के लिए तैयार है और जनता को घबराने की जरूरत नहीं है।

दरअसल सीबीआई की विशेष अदालत में बीते 17 अगस्त को डेरा सच्चा सौदा प्रमुख गुरमीत राम रहीम के खिलाफ चल रहे साध्वी यौन शोषण के मामले में सुनवाई शुरु हुई थी। सुनवाई में राम रहीम को वीडियो कांफ्रेंस के जरिए पेश होना था लेकिन वो नहीं हुए थे इसलिए अब उन्हें 25 अगस्त को व्यक्तिगत रूप से पंचकूला की विशेष सीबीआई अदालत में पेश होना है।