स्लम एरिया में स्वास्थ्य कर्मियों ने मुफ्त में बांटे सैनिटाइजर

शेयर करें:

बैतूल। कोरोना वायरस संक्रमण से बचाव के लिए मध्य प्रदेश के बैतूल में स्वास्थ्य कर्मियों ने खुद सेनेटाइजर तैयार कर गरीब लोगों को बांटा । बैतूल जिला अस्पताल के ब्लड बैंक और पैथोलॉजी लैब के स्टाफ ने मिलकर तैयार किए सैनिटाइजर शहर के स्लम एरिया में गरीब लोगों को वितरित किये गए ।

नागरिकों को कोरोना से बचने के उपाय बताए गए साथ ही जिला स्वास्थ्य विभाग द्वारा जारी की गई अपील के पंपलेट भी लोगों को वितरित किए गए जिसमें कोरोना वायरस से बचने के उपाय बताए गए हैं ।

जिला अस्पताल के ब्लड बैंक इंचार्ज डॉ अंकिता सीते ने का कहना है कि कोरोना से बचने के लिए हाथों को धोना और सेनेटाइज करना जरूरी है पर बाजार में सैनिटाइजर महंगे मिलने के कारण गरीब लोग सैनिटाइजर खरीद नहीं पा रहे हैं इसको लेकर ब्लड बैंक और जिला अस्पताल के पैथोलॉजी लैब के स्टाफ ने आपस में सहयोग कर कर आइसो प्रोपाईल अल्कोहल (स्प्रिट), एलोवेरा जेल ,डिटॉल और ग्लिसरीन मिलाकर उत्तम गुणवत्ता वाला सैनिटाइजर तैयार किया और शीशी में भरकर तैयार किया ।

जिला अस्पताल के स्टाफ और समाजसेवियों के साथ बैतूल के हमलापुर इलाके के माझी नगर में गरीब लोगों को वितरित किया और उन्हे इसके उपयोग के उपाय भी बताए ।

कोरोना वायरस से बचने के अन्य उपाय भी बताएं गए । यह भी बताया कि हाथ धोने के अलावा अगर कहीं बाहर जा रहे हैं तो हाथों को सैनिटाइज करे । स्वास्थ्य विभाग द्वारा कोरोनावायरस से बचने के लिए जारी की गई अपील के पंपलेट वितरित किए गए।

इन पंपलेट को मांझी नगर के घरों की दीवारों पर भी चिपकाए गए । समाजसेवी विक्रम वेध ने बताया कि मांझी नगर में गरीब लोगों को सैनिटाइजर वितरित किये गए साथ ही पंपलेट दिए गए और कोरोना वायरस से बचने के लिए उन्हें समझाइश दी गई।