पर्यटन स्थलों पर बढ़ती लोगों की भीड़ पर स्वास्थ्य मंत्रालय ने जताई चिंता, हिल स्टेशनों में दिखी भयावह स्थिति

शेयर करें:

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने पर्यटन स्थलों पर बढ़ती लोगों की भीड़ पर जताई चिंता। देश में कोरोना वायरस महामारी की दूसरी लहर के कमजोर पड़ने के साथ राज्यों ने लॉकडाउन और पाबंदियां हटाना शुरू कर दिया है। इसके बाद पर्यटन स्थलों पर लोगों की भीड़ जुटना शुरू हो गया है। चौंकाने वाली बात यह है कि लोग वहां खुलेआम कोरोना प्रोटोकॉल का उल्लंघन कर रहे है। इस पर केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय और भारतीय चिकित्सा अनुसंधान परिषद (ICMR) ने चिंता जताई है और बिगड़ते हालातों को देखकर फिर पाबंदियां लागू करने की चेतावनी दी है।

स्वास्थ्य मंत्रालय और ICMR ने मंगलवार को मनाली, कुल्लू, शिमला और धर्मशाला जैसे हिल स्टेशनों की तस्वीरें जारी की है। लोग पाबंदियां हटने के बाद गर्मी से राहत पाने के लिए इन हिल स्टेशनों पर पहुंच रहे हैं, लेकिन कोरोना प्रोटोकॉल का पालन नहीं कर रहे हैं। तस्वीरों में न तो सोशल डिस्टेसिंग दिखाई दे रही है और ना ही लोग मास्क का उपयोग कर रहे हैं। ऐसे में संक्रमण के फिर से बढ़ने का खतरा नजर आ रहा है।

ICMR के महानिदेशक डॉ बलराम भार्गव ने कहा, “देश के प्रमुख हिल स्टेशनों से बड़ी हैरान कर देने वाली तस्वीरें सामने आई है। लोग कोरोना प्रोटोकॉल का पालन नहीं कर रहे हैं। यह बेहद चिंता की बात है।” उन्होंने आगे कहा, “कोरोना महामारी से बचने के लिए कोरोना प्रोटोकॉल का पालन बहुत जरूरी है। लोगों को बहुत अधिक सावधान, बहुत जिम्मेदार और बहुत सतर्क रहना होगा। इसके साथ ही महामारी को मात दी जा सकती है।”

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के संयुक्त सचिव लव अग्रवाल ने लोगों से की कोरोना प्रोटोकॉल का पालन करने की अपील। स्वास्थ्य मंत्रालय के संयुक्त सचिव लव अग्रवाल ने कहा, “हिल स्टेशनों की सामने आई तस्वीरें परेशान करने वाली है। लॉकडाउन के कारण घर में बंद रहे लोग अब मानने लगे हैं कि लॉकडाउन के खत्म होने से महामारी खत्म हो गई है। ऐसे में वह खुलेआम कोरोना प्रोटोकॉल का उल्लंघन कर रहे हैं।” उन्होंने आगे कहा, “अब तक कोरोना की दूसरी लहर से निपटने में मिली बढ़त को कोरोना प्रोटोकॉल तोड़ने वाले लोग खत्म कर सकते हैं।”

फिर से लागू की जा सकती है पाबंदियां- अग्रवाल
अग्रवाल ने कहा, “लोग हिल स्टेशनों का रुख करने लगे हैं, लेकिन कोरोना प्रोटोकॉल का पालन नहीं कर रहे हैं। यदि ऐसा होता है तो फिर हम अब तक दी गई ढील को वापस भी लेकर फिर से पाबंदियों को लागू कर सकते हैं।” उन्होंने आगे कहा, “कोरोना महामारी की दूसरी लहर अभी तक गई नहीं है। यह अब भी सीमित स्वरूप में हमारे बीच मौजूद है। ऐसे में थोड़ी सी लापरवाही इसे फिर से सक्रिय कर सकती है।”

भीड़ के चलते दिल्ली में बंद किया बाजार
बता दें शहरों के बाजारों में भी भीड़ बढ़ने लगी है। सोमवार को दिल्ली में कोरोना प्रोटोकॉल के कथित उल्लंघन को लेकर लाजपत नगर के मशहूर सेंट्रल मार्केट और सदर बाजार की रूई मंडी बाजार को बंद कर दिया गया था।

भारत में यह है कोरोना संक्रमण की स्थिति
भारत में अब तेजी से घट रहे कोरोना संक्रमण के मामले। भारत में पिछले 24 घंटे में संक्रमण के 34,703 नए मामले सामने आए और 553 मरीजों की मौत हुई। देश में कुल संक्रमितों की संख्या 3,06,19,932 हो गई है। इनमें से 4,03,281 की मौत हो गई। सक्रिय मामलों की संख्या 4,64,357 रह गई है। इसी तरह देश के 91 जिलों में ही प्रतिदिन 100 से ज्यादा नए मामले आ रहे हैं। 4 मई को यह आंकड़ा 531 जिलों का था। ऐसे में अब संक्रमण की रफ्तार कम हो रही है।