48वें अंतरराष्ट्रीय फिल्म महोत्सव की शानदार शुरुआत

शेयर करें:

48वां भारतीय अंतर्राष्ट्रीय फिल्म महोत्सव रंगारंग उदघाटन समारोह के साथ कल गोवा में शुरू हो गया। पणजी में बेम्‍बोलिम के डॉक्‍टर श्‍यामा प्रसाद मुखर्जी स्‍टेडियम में आयोजित इस समारोह का उदघाटन अभिनेता शाहरूख खान ने किया। फेस्टिवल की शुरुआत ईरानी फिल्मकार माजिद मजिदी की फिल्म ‘बियॉन्ड द क्लाउड्स’ से हुई। भारतीय पैनोरमा फिल्म की शुरूआत आज से होगी।

अंतराष्ट्रीय फिल्म महोत्सव भारत का की शुरूआत 1952 में हुआ था। अपनी शुरूआत से आज तक ये उत्सव देश की संस्कृति,विरासत को दुनिया के सामने प्रदर्शित तो करता ही रहा है साथ ही इसके मंच पर दुनिया की दूरियां भी सिमटी हैं। इसने दूसरे देशों से आऐ फिल्मकारों को भी एक अद्वितीय मंच दिया है। फेस्टिवल की शुरुआत ईरानी फिल्मकार माजिद मजिदी की फिल्म ‘बियॉन्ड द क्लाउड्स’ से हुई।

48 वें फिल्म महोत्सव के शुरूआत के साथ मशहूर अदाकारा श्रीदेवी ने उन शख्सियतों को भी श्रद्धाजंलि दी। जिन्होने अपनी कला के ज़रिए लोगों को बीच अपनी अलग जगह बनाई और जीवन भर उन्होने कला के मंच को जिन्दा रखा। लेकिन हाल ही में जीवन के रंगमंच को अलविदा कह दिया। जयललिता,विनोद खन्ना, ओम पुरी,टॉम एलटर और रीमा लागू उनमें से एक हैं।

इस बार फिल्म फेस्टिवल में कनाडा फोकस देश भी है। कनाडा के मशहुर फिल्मकार एटम एगोयन को लाइफटाइम अचीवमेंट अवार्ड दिया जाएगा। भारतीय पैनोरमा फिल्म की शुरूआत 21 नवंबर को होगी। इस वर्ग में सबसे पहले पिहू का प्रदर्शन किया जाऐगा। अंतराष्ट्रीय फिल्मों की कैटगरी में सिल्वर पिकॉक और गोल्डन पिकॉक अवार्ड भी दिए जाऐंगे। इस पुरस्कार की कुल धनराशि 1 करोड़ की होगी। सर्वश्रेष्ठ फिल्मों के चुनाव के लिए जूरी अध्यक्ष के रूप में मशहूर फिल्मकार मुज्जफर अली को चुना गया है।

समापन समारोह में अभिनेता सलमान खान मौजूद रहेंगे। 28 नवंबर तक चलने वाले इस फेस्टिवल में 82 देशों की 195 फिल्में दिखाई जाएंगी। 48वें फिल्म समारोह का समापन अर्जेंटीना के फिल्ममेकर पाब्लो सीज़र की फिल्म थिंकींग ऑफ हिम से किया जाऐगा।