सरकार ने खत्म की TET सर्टिफिकेट वैलिडिटी की वैधता, जानें कब से होगा ये लागू

शेयर करें:

सरकार ने टीचर एलिजिबिलिटी टेस्ट (TET) के योग्यता सर्टिफिकेट (TET Exam Certificate) की वैधता अवधि को वर्तमान सात वर्ष से बढ़ाकर आजीवन करने का निर्णय किया है. यह निर्णय  2011 से प्रभावी होगा. केंद्रीय शिक्षा मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक ने बृहस्पतिवार को यह घोषणा की.

निशंक ने कहा कि जिन उम्मीदवारों या छात्रों के प्रमाणपत्र की सात वर्ष की अवधि पूरी हो गई है, उनके बारे में संबंधित राज्य सरकार या केंद्र शासित प्रशासन TET की वैधता अवधि के पुनर्निधारण करने या नया TET सर्टिफिकेट जारी करने के लिए जरूरी कदम उठायेंगे.

शिक्षा मंत्रालय (Ministry of Education) के बयान के अनुसार निशंक (Ramesh Pokhriyal) ने कहा कि TET के योग्यता प्रमाणपत्र (TET Exam Certificate) की वैधता अवधि को वर्तमान सात वर्ष से बढ़ाकर आजीवन करने का निर्णय किया गया है. उन्होंने कहा कि इस कदम से शिक्षण के क्षेत्र में अपना करियर बनाने को इच्छुक उम्मीदवारों के लिये रोजगार के अवसर बढ़ेंगे.

उल्लेखनीय है कि स्कूलों में शिक्षक के रूप में नियुक्ति के लिये किसी व्यक्ति की पात्रता के संबंध में शिक्षक पात्रता परीक्षा (TET Exam Certificate) का योग्यता प्रमाणपत्र एक जरूरी पात्रता है.  राष्ट्रीय शिक्षक शिक्षा परिषद (NCTE) के 11 फरवरी 2011 के दिशानिर्देशों में कहा गया है कि राज्य सरकार TET का आयोजन करेंगी और TET योग्यता प्रमाणपत्र (TET Exam Certificate) की वैधता की अवधि परीक्षा पास होने की तिथि से सात वर्ष तक होगी.