सरकार ने दी किसानों को न्यूनतम समर्थन मूल्य में इज़ाफे की सौगात

शेयर करें:

कैबिनेट की बैठक में देश के किसानों के हित में फैसला लेते हुए खरीफ फसलों के न्यूनतम समर्थन मूल्य में भारी बढ़ोत्तरी करते हुए इसे डेढ़ गुना किया गया फसलों का उचित दाम नहीं मिलने से परेशान किसानों को मोदी सरकार बड़ा तोहफा दिया है।

इससे पहले सरकार कहती रही है कि वह किसानों को लागत का डेढ़ गुना मूल्य दिलाने पर काम कर रही है और प्रतिवर्ष सत्ता में आने के बाद मोदी सरकार ने हर साल धान का समर्थन मूल्य बढ़ाया है। नीति आयोग ने कुछ दिन पहले ही कहा कि फसलों के न्यूनतम समर्थन मूल्य का नया फार्मूला बन रहा है और आज इस बारे में आखिरकार कैबिनेट में महत्वपूर्ण फ़ैसला लिया गया।

सरकार ने खरीफ फसलों का न्यूनतम समर्थन मूल्य बढ़ाने का नया फार्मूला A2+FL तैयार किया है जिसे आज कैबिनेट की बैठक में मंज़ूरी दे दी गई। मोदी सरकार ने सत्ता में आने के बाद से हर साल धान का समर्थन मूल्य बढ़ाया है। पहले दो साल पचास रुपये, तीसरे साल साठ रुपये, पिछले साल 80 रुपये और इस साल डेढ़ गुना तक बढ़ाया गया है।