भ्रष्टाचार मामले में पाकिस्तान के पूर्व पीएम नवाज शरीफ को 7 साल की सज़ा

शेयर करें:

पाकिस्तान की भ्रष्टाचार रोधी अदालत ने पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ को भ्रष्टाचार के एक मामले में दोषी करार देते हुए सात साल की सज़ा सुनाई है.

इस्लामाबाद की जवाबदेही अदालत ने 68 वर्षीय शरीफ को अल अज़िज़िया स्टील मिल मामले में दोषी पाया. शरीफ पर भारी भरकम जुर्माना भी लगाया गया है. हालांकि नवाज़ शरीफ़ को ‘फ्लैगशिप इनवेस्टमेंट’ मामले में राहत मिली है. उन्हें इस मामले में बरी कर दिया गया है. शरीफ फिलहाल भ्रष्टाचार के एक अन्य मामले में पहले से ही जेल में हैं.