इंदौर: रोजा इफ्तार के दाैरान फूड पॉइजनिंग, 2000 से ज्यादा बीमार

शेयर करें:
इंदौर। मध्य
प्रदेश के इंदौर में बोहरा समाज के सामूहिक भोज के बाद फूड पॉइजनिंग से 2000 से
ज्यादा लोग बीमार हो गए। सभी काे शहर के अलग-अलग अस्पतालों में भर्ती कराया गया
है। दो दर्जन से अधिक लोगों की हालत गंभीर बताई जा रही है।
जानकारी के
मुताबिक,
सैफी नगर में स्थित बोहरा समाज की मस्जिद में रविवार रात
सामूहिक रोजा इफ्तार का आयोजन किया गया था। रात को करीब 8:30 बजे भोज का दौर शुरू
हुआ। लोग खाना खाकर अपने घर जा चुके थे।
रात को 12 बजे
के बाद भोज में शामिल हुए लोग उल्टी-दस्त की शिकायत लेकर आस-पास के अस्पतालों में
पहुंचने लगे। कुछ ही देर के भीतर बोहरा समाज के हर घर से बीमार लोग अस्पताल
पहुंचने लगे।
सामूहिक रोजा
इफ्तार में दाल-चावल, मटन और मावे की मिठाई बनाई गई थी। यह माना जा रहा है कि
मावे की मिठाई के दूषित होने की वजह से लोगों की तबीयत बिगड़ी और उल्टी-दस्त शुरू
हो गए।
बोहरा समाज से
जुड़े लोगों का कहना है कि, रविवार को रतजगा था इसलिए 12 बजे तक सभी लोग जाग रहे थे। 12
बजे नमाज के लिए काफी लोग मस्जिद में पहुंचे थे। इसी के बाद एक-एक कर सभी की तबीयत
बिगड़ने लगी।
इतनी अधिक
संख्या में लोगों के बीमार होने की सूचना मिलने पर पुलिस एवं प्रशासन के अफसर भी
जमातखाने पहुंच गए एवं बीमारों के इलाज का इंतजाम कराया।
बोहरा समाज के
कई डॉक्टर भी जमातखाने एवं अलग-अलग अस्पतालों में पहुंचकर बीमारों की सेवा में जुट
गए। लेकिन, मरीजों की संख्या इतनी ज्यादा थी कि अधिकांश अस्पतालों में इंतजाम नाकाफी
साबित हुए।

प्रदेश के
सबसे बड़े सरकारी अस्पताल एमवाय में शुरु में सिर्फ सात-आठ मरीज पहुंचे थे। बाद
में सैकड़ों की संख्या में मरीजों के पहुंचने पर ट्रॉमा सेंटर एवं इमरजेंसी वार्ड
में उन्हें भर्ती कराया गया।