आबकारी विभाग ने नकली शराब के फर्जीवाड़ा का खुलासा किया

शेयर करें:

इंदौर। इंदौर में आबकारी विभाग ने बड़ी कार्यवाही करते हुए नकली शराब बनाने वालों का भांडाफोड़ किया हैं। आरोपी विदेशी शराब के बड़े बड़े ब्रांड कि नकली शराब बना कर करोडो रूपए का फर्जीवाडा करते थे। फर्जीवाड़े का यह पूरा खेल इंदौर के पॉश इलाके के गीता भवन के आशीर्वाद अपार्टमेन्ट के फ्लेट नंबर 404 में चल रहा था। आबकारी पुलिस ने छापा मारकर बड़े बड़े विदेशी ब्रांड कि शराब जब्त की हैं साथ ही ब्रांड्स के खाली बॉक्स और बोतले भी पुलिस को बड़ी मात्रा में मिली हैं। बड़ी मात्रा में एसेंस भी मिला है जिससे सस्ती शराब से हाई रेंज कि महंगी शराब बनाई जाती थी

दरअसल शनिवार को ही आबकारी पुलिस ने अन्नपूर्णा पर सौरभ नामक व्यक्ति के होजयरी कि दुकान पर छापा मार कर पांच पेटी शराब जप्त कि थी। पूछताछ में आरोपी सौरभ ने गीताभवन के आशीर्वाद अपार्टमेंट से शराब की पेटियां खरीदना बताया जिसके बाद आबकारी पुलिस ने छापा मारा लेकिन मौके पर पुलिस को फ्लेट पर ताला लगा मिला। लेकिन पंचनामा बनाकर फ्लेट को खोला गया तो 3 कमरे वाले फ्लेट में शराब कि बोतेले, एसेंस, बड़े बड़े ब्रेड्स के पेकिंग कार्टून्स और बड़ी मात्रा में शराब भी मिली।

पुलिस कि माने तो ये फ्लेट छावनी में रहने किसी माहेश्वरी का है जिन्होंने प्रदीप नीमा को ये फ्लेट किराये पर दिया था। ये फ्लेट लगभग 6 साल से किराये पर लिया गया है और इससे पहले से ही ये अवैध और नकली शराब बनाने का कारोबार यहाँ किया जा रहा है। यहाँ कि आपर्टमेंट वालों को इसलिए भी शक नहीं हुआ क्योंकि प्रदीप नीमा ने ग्राउंड फ्लोर पर मानवता गिफ्ट पेकिंग के नाम से शॉप खोली हुई थी जहाँ इसकी आड़ में वो अवैध धंधा करता था। फिलहाल इस मामले में पुलिस की पड़ताल जारी है।