कर्नाटक में नामांकन पत्रों की जांच आज

शेयर करें:

नामांकन प्रक्रिया के समाप्त होने के साथ ही कर्नाटक में बजा चुनावी बिगुल, विधानसभा चुनाव के लिए नामांकन पत्रों की आज होगी जांच, बीजेपी राज्य में ‘नममा माने बीजेपी माने’ अभियान की करेगी शुरूआत

दक्षिण भारत के राज्य कर्नाटक में अगले महीने होने वाले विधानसभा चुनाव को लेकर राजनैतिक सरगर्मियां लगातार बढ़ती जा रही है। कर्नाटक विधानसभा चुनावों के लिए नामांकन पत्रों की आज जांच होगी और 27 अप्रैल तक नाम वापस लिए जा सकते हैं। कल नामांकन पत्र भरने का आखिरी दिन था। भाजपा राज्य स्तर पर ‘ नम्मा माने भाजपा माने ‘ यानि हमारा घर भाजपा घर अभियान का शुभांरभ करेगी, जिसके तहत पार्टी के कार्यकर्ता अपने घरों पर पार्टी का झंडा फहराएंगे। इस अभियान में पार्टी के करीब 11 लाख कार्यकर्ता हिस्सा लेंगे।

कर्नाटक चुनाव को लेकर राज्य में चुनावी सरगर्मियां लगातार बढ़ती जा रही हैं। मंगलवार को नामांकन दाखिल करने का आखिरी दिन था। भाजपा की तरफ़ से जहां बी श्रीरामुलु ने बादामी से अपना नामांकन दाख़िल किया तो वहीं राज्य के मुख्यमंत्री सिद्धारमैया ने भी बादामी विधानसभा से ही नामांकन भरा। सिद्दरमैया इससे पहले चामुडेश्वरी सीट से भी पर्चा भर चुके हैं। नामांकन दाखिल करने के साथ ही राज्य में चुनावी पारा अब काफी चढ़ गया है। श्रीरामुलु के बादामी से नामांकन दाख़िल करने के दौरान वरिष्ठ भाजपा नेता और पूर्व मुख्यमंत्री येदियुरप्पा भी श्रीरामुलू के साथ मौजूद थे।

कर्नाटक विधानसभा चुनाव में दो सीटों से अपनी किस्मत आजमा रहे मुख्यमंत्री सिद्दारामैया ने एक तरफ जहां कहा कि वो दोनों सीटों बादामी और चामुंडेश्वरी से जीत को लेकर आश्वस्त हैं वहीं केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने राज्य के मुख्यमंत्री और कांग्रेस के नेता सिद्धरमैया पर हमला करते हुए बोला कि सिद्धरमैया चाहें किसी भी सीट से चुनाव लड़ लें जनता से बचकर वो भाग नहीं सकते हैं।

वहीं दूसरी तरफ कर्नाटक में वरुणा सीट को लेकर बीजेपी में मचा घमासान आखिरकार खत्‍म हो गया।. भारतीय जनता पार्टी ने वरूणा विधानसभा सीट के लिए बासवराजू टी को आधिकारिक रूप से अपना उम्मीदवार घोषित किया है। इस सीट से कांग्रेस ने मुख्यमंत्री सिद्धारमैया के बेटे एस यतीन्द्र को मैदान में उतारा है।

नामांकन दाखिल करने के आखिरी दिन कुछ दिलचस्प नजारे भी देखने को मिले। कलबुर्गी से जनता दल सेक्यूलर के प्रत्याशी बसावाराज दिग्गवी ने बैलगाड़ी पर बैठकर नामांकन दाखिल किया। आंकड़ों की बात करें तो राज्य विधानसभा में कुल सीटें 224 हैं जिसमें बहुमत के लिए 113 सीटें चाहिए। 12 मई को मतदान होगा और नतीजे 15 मई को घोषित किए जाएंगे।