कर्नाटक में चुनाव प्रचार हुआ तेज़

शेयर करें:

12 मई को होने वाले कर्नाटक विधानसभा चुनाव के लिए चुनाव प्रचार ने पकड़ी रफ्तार। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज राज्य के भाजपा उमीदवारों, कार्यकर्ताओं से नरेंद्र मोदी एप के ज़रिए करेंगे संवाद। कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी भी कर्नाटक में आज करेंगे चुनाव प्रचार।

कर्नाटक में विधानसभा चुनाव को लेकर राजनैतिक सरगर्मियां लगातार बढ़ती जा रही है। विधानसभा चुनाव के लिए कल नामांकन पत्रों की जांच की गई। 27 अप्रैल तक प्रत्याशी अपना नाम वापस ले सकते हैं। इस बीच कांग्रेस और बीजेपी के बीच ज़ुबानी जंग भी तेज़ हो गई। राज्य के मुख्यमंत्री सिद्दरमैया ने अपनी जीत का दवा करते हुए बीजेपी के मुख्यमंत्री पद के उम्मीदवार यदियुरप्पा पर कई आरोप लगाए हैं।वहीं आरोपों को ख़ारिज करते हुए यदियुरप्पा ने इसे सिद्दारमैया की हताशा बताया।

कर्नाटक में पर्चे दाखिल करने की मियाद खत्म होने के साथ ही राज्य में चुनावी पारा अब काफी चढ़ गया है। जैसे जैसे चुनाव आगे बढ़ रहा है राजनीतिक पार्टियां एक दूसरे पर आरोप प्रत्यारोप में लग गई हैं। राज्य के मुख्यमंत्री सिद्दरमैया ने अपनी जीत का दवा करते हुए बीजेपी के मुख्यमंत्री पद के उम्मीदवार यदियुरप्पा पर कई आरोप लगाए हैं।

हालांकि उन्होंने माना कि मुख्य मुकाबला उनके और सिद्दारमैया के बीच ही है। वहीं आरोपों को ख़ारिज करते हुए यदियुरप्पा ने इसे सिद्दारमैया की हताशा बताया। उन्होंने कहा बीजेपी केद्र सरकार की 4 साल की उपलब्धियों और राज्य में कांग्रेस की घोर नाकामियों के चलते इन चुनावों में मिशन 150 के लक्ष्य को ज़रूर पूरा करेगी।

बीजेपी का दावा है कि राज्य में उनकी सरकार बनते ही किसानों के कल्याण के लिए एक लाख करोड़ रुपए की योजना लाएगी। कांगेस भी अपने विकास कार्यों को गति देने की बात कर रही है। इन सबके बीच राज्य जनता खामोशी से इन दावों को परख रही है। आंकड़ों की बात करें तो राज्य विधानसभा में कुल सीटें 224 हैं जिसमें बहुमत के लिए 113 सीटें चाहिए। 12 मई को मतदान होगा और नतीजे 15 मई को घोषित किए जाएंगे।