निगरानी तन्त्र निर्वाचन व्यय की प्रभावी कार्यवाही करे – मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी

शेयर करें:

सागर @ मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी व्ही.एल.कान्ता राव ने निर्वाचन व्यय निगरानी तंत्र के नोडल अधिकारियों की बैठक में कहा कि आदर्श आचरण संहिता लागू होने के साथ ही निर्वाचन आयोग के निर्देश पर जिलों में निगरानी दल सक्रियता से कार्यवाही करें। संपत्ति विरूपण की कार्यवाही त्वरित गति से की जाये।
मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी ने निर्देशित किया कि पुलिस एवं परिवहन विभाग सख्ती से वाहनों की जाँच करें। रेल्वे स्टेशनों पर अवैध राशि, मदिरा, हथियार के परिवहन की रोकथाम के लिये जाँच की जाये। केन्द्र एवं राज्य की नारकोटिक्स विंग मादक पदार्थों की सघन जाँच करे। सभी जाँच एजेंसियाँ प्रतिबंधात्मक कार्यवाही, जब्ती की कार्यवाही की वीडियो रिकार्डिंग भी करवायें।
राव ने आयकर विभाग को निर्देशित किया कि संदेहास्पद लेन-देन के स्त्रोतों की जाँच करें और एयरपोर्ट, एयर स्ट्रिप एवं हेलीपैड पर अपनी टीम तैनात करें। बैठक में अपर मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी लोकेश जाटव, संयुक्त मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी राजेश कौल, सहित 15 विभागों के नोडल अधिकारी उपस्थित थे।