इंडोनेशिया में भूंकप से आया भूस्खलन

शेयर करें:

इंडोनेशिया में, प्रसिद्ध पर्यटक स्‍थल लोमबोक द्वीप में आए भीषण भूकंप के कारण भूस्खलन से पहाड़ चढ़ रहे करीब 200 पैदल यात्री और उनके गाइड वहां फंस गए हैं। भूकंप के कारण भारी भूस्‍खलन होने से निकलने के सभी रास्‍ते कट गए हैं। इंडोनेशिया में भूकंप बाद आये भूस्खलन के कारण ज्वालामुखी पहाड़ पर फंसे 500 से अधिक हाइकर्स और उनके गाइडों को सुरक्षित बचा लिया गया है।

अधिकारियों ने आज बताया कि रविवार तड़के माउंट रिन्जानी में 6.4 की तीव्रता वाला भूकंप आया जिसके कारण हुये भूस्खलन से भारी पैमाने पर चट्टान और मिट्टी धसक गयी। इसके बाद भूकंप के झटकों के कारण हाइकिंग का रास्ता बंद हो गया।

तलाश और बचाव अधिकारियों का कहना है कि एक अनुमान के मुताबिक, अमेरिका, फ्रांस, नीदरलैंड, थाईलैंड और जर्मनी सहित अन्य देशों के 560 हाइकर्स पहाड़ पर फंसे हुए थे।

[amazon_link asins=’0241013593,0141979569,8131707180,140953068X,0143334050,0198083521,8120328922,0008169276′ template=’ProductCarousel’ store=’khabarjunction-21′ marketplace=’IN’ link_id=’77b1328a-94d0-11e8-b5d0-31350b4f5532′]

राष्ट्रीय आपदा एजेंसी के प्रवक्ता सुतोपो पुरवो नुगरोहो ने बताया, ‘‘543 हाइकर्स को कल रात निकाल लिया गया।’’गाइडों ने बताया कि भूस्खलन के बावजूद एक वैकल्पिक मार्ग प्रभावित नहीं हुआ है। ऐसे में हाइकिंग फिर से शुरू की जा सकती है।