स्वामित्व योजना के तहत गांवों में ड्रोन से सर्वे

शेयर करें:

कटनी @ ग्रामीण आबादी क्षेत्र के दस्तावेज राजस्व अभिलेखों में दर्ज नहीं होते। इन क्षेत्रों में ग्रामीणों को स्वामित्व का अधिकार देने और दस्तावेज तैयार करने के लिए स्वामित्व योजना प्रारंभ की गई है। इस योजना के तहत ड्रोन कैमरे से गांवों का सर्वे कराया जा रहा है। शासन की स्वामित्व योजना के अंतर्गत कटनी जिले में भी ग्रामों में भूमि का सर्वे ड्रोन के माध्यम से प्रारंभ किया गया है। गुरुवार को रीठी विकासखण्ड के ग्राम कठोतिया में सर्वे दल द्वारा एसडीएम बलबीर रमन की उपस्थित में सर्वे का कार्य प्रारंभ किया गया। सर्वे के उपरांत मानचित्र व अभिलेख तैयार किए जाएंगे। इस तरह से तैयार अभिलेखों के आधार पर ग्रामीणों को संपत्ति कार्ड जारी किए जाएंगे। इसे ग्रामीण मालिकाना हक के रूप में प्रयोग करेंगे।

ग्रामीण क्षेत्रों में आबादी का सर्वेक्षण कर अभिलेख निर्माण मध्यप्रदेश भू-राजस्व संहिता 1959 (संशोधित वर्ष 2018) की धारा 107(1)(ख) के अन्तर्गत ग्राम आबादी क्षेत्र का सर्वे द्वारा नक्श व अधिकार अभिलेख निर्माण का कार्य तहसीलवार किये जाने के निर्देश जारी किये गये हैं। ग्रामीण क्षेत्रों में आबादी भूमि के भूखण्डों में अधिभोग रखने वाले निवासरत व्यक्तियों का अधिकार अभिलेख जिसमें आबादी धारकों के हित निहित हैं, तथा ग्रामों के लिये निस्तार पत्रक व वाजिब उल अर्ज भी तैयार किया जायेगा। यह कार्य जिला, तहसीलदार एवं पंचायत स्तरीय समिति के पर्यवेक्षणधीन होकर क्रियान्वयन होगा।