धोखाधडी के आरोपी देवर एवं सास पुलिस गिरफ्त में

शेयर करें:

जबलपुर @ थाना गढा में बबीता जैन 45 वर्ष छोटा जैन मंदिर के पास ने एक लिखित शिकायत की कि उसकी शादी वर्ष 1991 में जयस्वरूप जेैन से सामाजिक रीतिरिवाज से हुई थी। उसका एक बेटी एंव एक बेटा है। उसके पति ने गढा पुरवा में म.न. 2691 एवं म.न. 797 कुल रकवा 1339 वर्गफुट का फरवरी 2004 में क्रय कर मालिकाना हक प्राप्त किया था और 1 जनवरी 2011 मे उसके पति का निधन हो गया । उसका मकान पुरना व छतिग्रस्त होने के कारण वह अपने दोनो बच्चो के साथ अगस्त अपने पुष्तैनी मकान मे जाकर रहने लगी ।

उसके पति द्वारा क्रय किये गये दोनो मकान मेे उसकी सास सरला जेैन एवं देवर जय प्रकाश जैन तोडफोड कराने लगे जिन्हें मना किया तो सास सरला एंव देवर जयप्रकाश ने कहा कि यह सम्पत्ति में उनका नाम मालिकाना हक मे दर्ज हो गया है । उसने पतासाजी करते हुये राजस्व रिकार्ड की सत्यप्रतिलिपि निकलवाई तो उसे पता हुआ कि उसके पति की मृत्यु के बाद उसकी सास सरला एवं देवर जय प्रकाश ने उसके एवं उसके दो बच्चो के होने की जानकारी छिपाकर, स्वयं को उत्तराधिकारी होना बताया एवं झूठे तथ्यों के आधर पर फर्जी शपथ पत्र राजस्व न्यायालय के समक्ष प्रस्तुत कर उसके एंव उसके बच्चो के साथ छल किया है। शिकायत एवं दस्तावेजो के आधार पर अपराध पंजीबद्ध कर आरोपी सरला जैन एवं जयप्रकाश जैन को अभिरक्षा मे लिया गया।