युवाओं के साथ दिव्यांगों और वयोवृद्ध महिलाओं ने मताधिकार का उपयोग किया

शेयर करें:

मध्यप्रदेश में विधानसभा निर्वाचन-2018 में मतदान के लिये आज रायसेन जिले में युवाओं के साथ-साथ दिव्यांगों और वयोवृद्ध महिलाओं ने भी अपने मताधिकार का उपयोग किया। भारत निर्वाचन आयोग के निर्देशानुसार सभी विधानसभा क्षेत्रों में दिव्यांग तथा वृद्ध एवं वयोवृद्ध मतदाताओं को मतदान केन्द्र तक लाने-ले जाने के लिये सहायकों और वाहन की समुचित व्यवस्था सराहनीय रही।

रायसेन नगर के वार्ड क्रमांक-4 के मतदान केन्द्र में 100 वर्षीय श्रीमती प्रेमाबाई अपने मताधिकार का उपयोग करने पहुँचीं, तो पीठासीन अधिकारी ने पुष्प भेंट कर उनका स्वागत किया। प्रेमबाई ने बताया कि हर विधानसभा चुनाव में वह अपने मताधिकार का उपयोग करती आ रही हैं। इसी प्रकार उदयपुरा विधानसभा क्षेत्र में गोरखपुर निवासी 95 वर्षीय श्रीमती राधाबाई ने अपने मताधिकार का उपयोग किया।

रायसेन में हॉस्टल में रहकर बी.एड. कोर्स की पढ़ाई कर रहे दृष्टिबाधित दिव्यांग प्रदीप ने 27 नवम्बर को जिला निर्वाचन अधिकारी को टेलीफोन कर विधानसभा चुनाव में मतदान करने की इच्छा व्यक्त की थी। तत्पश्चात जिला निर्वाचन अधिकारी ने इनके लिये वाहन की व्यवस्था करवा कर इन्हें सिलवानी विधानसभा क्षेत्र के बेगमगंज तहसील के ग्राम खिरेटी पहुँचाया, जहाँ प्रदीप ने अपने मताधिकार का उपयोग किया।

रायसेन जिला मुख्यालय के वार्ड क्रमांक-13 में युवा मतदाता टीना वर्मा, साधना जाटव और सपना पूर्विया ने पहली बार अपने मताधिकार का उपयोग किया। तीनों युवा मतदाताओं ने प्रसन्नता पूर्वक कहा कि लोकतांत्रिक व्यवस्था में मतदान हमारा अधिकार होने के साथ-साथ कर्तव्य भी है। हमने अपने मताधिकार का स्व-विवेक से बिना किसी दबाव के उपयोग किया है।

रायसेन जिले के चारों विधानसभा क्षेत्रों में बनाये गये ऑल वूमन पोलिंग बूथ आकर्षण एवं सुविधाओं का केन्द्र साबित हुए। इन बूथ पर महिला कर्मचारियों की ड्यूटी लगाई गई थी, जिन्होंने सम्पूर्ण मतदान प्रक्रिया सम्पन्न कराई। यहाँ पर दिव्यांग मित्र, हेल्प डेस्क, मतदाता प्रतीक्षा केन्द्र और मतदाताओं के लिये पेयजल की समुचित व्यवस्था की गई थी। यहाँ आने वाले मतदाताओं का पुष्प भेंट कर स्वागत किया गया।