हमारी शाला ऐसी हो अन्तर्गत कुकरेठा में जिला स्तरीय शिक्षा सम्मेलन सम्पन्न

शेयर करें:

अशोकनगर @ चंदेरी विकासखंड के ग्राम कुकरेठा प्राथमिक विद्यालय में जिले के शिक्षा विभाग के अधिकारी एवं जनशिक्षकों का सम्मेलन आयोजित किया गया। जिसमें शाला सिद्धी कार्यक्रम अन्तर्गत शाला ट्यूनिंग में शिक्षा की गुणवत्ता सुधार के संबंध में की गई कार्यवाही पर विस्तृत चर्चा एवं सुझाव प्राप्त किये गये। जिले में शासन के निर्देशानुसार ऐसी उत्कृष्ट शालाओं में जिनमें नवाचार एवं गुणवत्ता के क्षेत्र में अच्छे कार्य किये गये हैं, ऐसी शालाओं में इस प्रकार के आयोजन कर गुणवत्ता का स्तर सुधार हेतु प्रयास किये जायेगें।

जिला परियोजना समन्वयक यू.एन. मिश्रा, ने बताया कि प्राथमिक विद्यालय हरिजन बस्ती में शिक्षक शिवपालसिंह यादव द्वारा किये गये उत्कृष्ट कार्य को देखते हुए इस शाला में जिले के सभी सी.ए.सी., सभी बी.आर.सी. एवं मास्टर ट्रेनर का सम्मेलन आयोजित किया गया। सम्मेलन में जिले से लगभग 80 व्यक्ति उपस्थित होकर शिक्षा की गुणवत्ता बढाने हेतु गहन मंथन किया गया। डी.पी.सी. मिश्रा ने सभी से अपने विद्यालयों की गई शिक्षा की गुणवत्ता वृद्धि के संबंध में गतिविधियों की जानकारी ली तथा इस हेतु विशेष प्रयास करने के निर्देश दिये।

सम्मेलन को संबोधित करते हुए महेन्द्र कुमार जैन, ए.पी.सी. अकादमिक ने बताया कि शाला सिद्धी कार्यक्रम अन्तर्गत निर्देश अनुसार शिक्षा की गुणवत्ता हेतु आयाम क्रमांक 2, 3 एवं 7 पर कार्य किया जाए तथा सभी उपस्थित शिक्षक शिक्षण गुणवत्ता हेतु विशेष प्रयास करें। जिले में 01 अप्रेल से नया सत्र प्रारंभ हो जाएगा, इस हेतु आवश्‍यक तैयारियां सुनिश्चित करें।

एम. शिक्षा मित्र के संबंध में प्रोग्रामर जी.एस.नरवरिया, ने विस्तृत जानकारी देते हुए बताया कि सभी शिक्षकों द्वारा अनिवार्यतः एप्प डाउनलोड कर लिया जाए। इस संबंध में सभी जनशिक्षक 15 मार्च तक जनपद शिक्षा केन्द्र को प्रमाण पत्र जमा करायें। उन्‍होने बताया कि 31 मार्च तक एप्प प्रायोगिक रूप से सभी शिक्षक उपस्थिति हेतु उपयोग करें। 31 मार्च 2018 के बाद एम शिक्षा मित्र के माध्यम से उपस्थिति अनिवार्य होगी।

आयोजित किये गये इस शिक्षा सम्मेलन में बी.आर.सी. चंदेरी शम्भुसिंह सोलंकी, बी.आर.सी.सी. अशोकनगर विक्रम परिहार, डी.आर.सी. शाला सिद्धी एम.एल. सिंघल, गिरदावल गोतम, समस्त बी.ए.सी.,सी.ए.सी. उपस्थित थे।