बुजुर्गों के प्रति संवेदनशीलता बढ़ाने डिजिटल प्लेटफार्म पर होंगे विभिन्न कार्यक्रम

शेयर करें:

जबलपुर । प्रदेश में वरिष्ठजनों की भावनात्मक जरूरतों के प्रति संवेदनशील वातावरण का निर्माण करने के उद्देश्य से आजादी का अमृत महोत्सव कार्यक्रम में अंतर्राष्ट्रीय वृद्धजन दिवस एक अक्टूबर, 2021 से 15 अगस्त, 2022 तक युवाओं के लिये विभिन्न ऑनलाइन गतिविधियाँ संचालित की जा रही हैं। सामाजिक न्याय एवं नि:शक्तजन कल्याण आयुक्त डॉ. ई. रमेश कुमार ने प्रदेश के सभी कुलपति से अनुरोध किया है कि वे “बुजुर्गों की बात, देश के साथ” थीम पर युवाओं का बुजुर्गों से संवाद, बुजुर्गों का सम्मान, प्रचलित गाथाओं, विचारों, अनुभवों और कहानियों को ऑनलाइन साझा करने में युवाओं की पूर्ण सहभागिता सुनिश्चित करें।

सभी विश्वविद्यालय के कुलसचिव से अनुरोध किया गया है कि एक अक्टूबर, 2021 से 15 अगस्त, 2022 तक लगातार डिजिटल प्लेटफार्म का अधिकतम उपयोग कर बुजुर्गों के प्रति संवेदनशीलता के विविध कार्यक्रम किये जायें। लाइव ईवेंट के लिये सोशल मीडिया का उपयोग, ऑनलाइन प्रश्नोत्तर प्रतियोगिताएँ, यू-ट्यूब पर कार्यक्रमों का आयोजन, जिलों में संचालित वरिष्ठ आश्रमों में युवा संवाद और अन्य गतिविधियाँ आयोजित की जायें। संचालित गतिविधियों की कार्यक्रमवार प्रविष्टि Indiaat75.mp.gov.in पर दर्ज करते हुए सामाजिक न्याय एवं नि:शक्तजन कल्याण विभाग की ई-मेल आईडी dir.socialjustice@mp.gov.in पर भी जानकारी प्रेषित करें।