हिंसा से प्रभावित भाजपा कार्यकर्ताओं के प्रतिनिधिमंडल ने की गृहमंत्री से मुलाकात

शेयर करें:

पश्चिम बंगाल में पंचायत चुनाव से पहले हुई हिंसा से प्रभावित भाजपा कार्यकर्ताओं के ए‍क प्रतिनिधिमंडल ने कल दिल्ली में राष्ट्रपति राम नाथ कोविन्द और केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह से मुलाकात की। इस प्रतिनिधिमंडल में पार्टी के घायल कार्यकर्ता भी शामिल थे। मुलाक़ात के बाद भाजपा ने ममता बनर्जी पर निशाना साधा।

पश्चिम बंगाल में जारी हिंसा के विरोध में बीजेपी के एक शिष्टमंडल ने राट्रपति रामनाथ कोविन्द से देर शाम मुलाक़ात की और बंगाल में जारी हिंसा से राष्ट्रपति को रुबरु कराया। इससे पहले गुरुवार की सुबह बीजेपी के प्रतिनिधिधिमंडल ने गृहमंत्री राजनाथ सिंह से मुलाक़ात की। गृह मंत्री से मुलाकात करने वाले नेताओं में कभी ममता बनजी के ख़ासमख़ास रहे और पू्र्व केद्रीय मंत्री मुकुल राय ,बीजेपी बंगाल के प्रभारी कैलाश विजयवर्गीय,राहुल सिन्हा समेत अनेक नेता मौजूद रहे। खास बात ये कि इस शिष्टमंडल में वो लोग भी शामिल हुए, जो बंगाल में हुई हिंसा के पीड़ित हैं।

गृहमंत्री से मुलाक़ात के बाद बीजेपी ने बकायदा प्रेस कांफ्रेस की और दो दर्जन से भी ज्यादा हिंसा पीड़ितों को मीडिया से रुबरु कराया, साथ ही बंगाल की ममता बनर्जी सरकार को हिंसा के लिए ज़िम्मेदार बताया। प्रेस कांफ्रेस में केन्द्रीय मंत्री बाबुल सुप्रियो ,सांसद रुपा गांगुली भी शामिल हुए। इस दौरान एक भावुक क्षण भी देखने को मिला ,जब रुपा गांगुली ने घायलों से खुद बातचीत की।

गौरतलब है कि बंगाल में अभी पंचायत के चुनाव चल रहे हैं। जिसमें बीजेपी और टीएमसी आमने सामने है। टीएमसी को बीजेपी से कड़ी टक्कर मिलने की खबर है। सूत्रों के अनुसार टीएमसी कार्यकर्ता राजनीतिक प्रतिशोध की वजह से बीजेपी पर अक्रामक हो चले हैं। अब तक बंगाल में राजनीतिक हिंसा में अनेक लोगों की जाने गई हैं,जबकि सैकड़ों कार्यकर्ता घायल हुए हैं।