डेटा लीक मामलाः नए खुलासे से फंसी कांग्रेस

शेयर करें:

कैम्ब्रिज एनालिटिका मामले को दुनिया के सामने रखने वाले व्हिसिल ब्लोअर क्रिस्टोफर विली के कांग्रेस के क्लाइंट होने के कबूलनामें के बाद कांग्रेस फंस गई है। इस खुलासे के बाद बीजेपी ने कहा राहुल ने देश से जो झूठ बोला है उनका पर्दाफाश हो गया है।

कैम्ब्रिज एनालिटिका की सेवाएं लेने के मामले में अब कांग्रेस फंस गई है। डेटा लीक मामले का खुलासा करने वाले विसलब्लोअर क्रिस्टोफर वाइली ने ब्रिटेन के हाउस ऑफ कॉमंस की एक समिति के सामने कहा है कि कैंब्रिज एनालिटिका का एक क्लाइंट कांग्रेस भी रहा है। कैंब्रिज एनालिटिका पर आरोप हैं कि उसने फेसबुक पर मौजूद 50 मिलियन यूजर्स की प्रोफाइल को बिना उनकी मंजूरी के चुनावों के नतीजों को प्रभावित करने के लिए प्रयोग किया है।

इस बीच केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने कहा है कि कांग्रेस के झूठ का अब पर्दाफाश हो गया है। राहुल गांधी ने इस पूरे मामले में देश को झूठ बोला। रविशंकर प्रसाद ने कहा कि कांग्रेस को झूठ बोलने के लिए देश से माफी मांगनी चाहिए। उन्होंने कहा कि इस खबर पुष्टि ने राहुल गांधी के बड़े झूठ को उजागर किया है, जो अभी तक भाजपा द्वारा लगाए जा रहे सभी आरोपों को नकार रहे थे।

हालांकि सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय ने कहा है कि फेसबुक पर किसी भी तरह के सूचना की चोरी को बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। सरकार इस मुद्दे को काफी गंभीरता से ले रही है और वो सभी नागरिकों के निजता के अधिकार को लेकर प्रतिबद्ध है। दरअसल कैंब्रिज एनालिटिका ब्रिटेन के लंदन में स्थित डाटा एनालिटिकल कंपनी है, जो चुनाव प्रचार में वोटर्स के डाटा एनालिसिस का काम करती है और उसके अनुसार अपने क्लाइंट को चुनाव प्रचार में मदद करती है।