कोरोना कंट्रोल रूम 10 मार्च के बाद व्यक्ति द्वारा, की गई यात्रा और होम क्वारेंटाइन का करेगा डाटा एनालिसिस

शेयर करें:

जबलपुर। जबलपुर स्मार्ट सिटी लिमिटेड के द्वारा तैयार किये गये आईसीसीसी को कोरोना कंट्रोल रुम के रुप में संचालित किया जा रहा है । प्रशासन ने आपात स्थितियों से निपटने के लिये फील्ड पर विभिन्न स्तर पर दलों का गठन किया गया है । जिनके अपने अपने कार्य निर्धारित किये गये है । कंट्रोल रुम विभिन्न स्त्रोतों से डाटा प्राप्त किया जा रहा है ।

जिसमें शहर के चेकपोस्ट से शहर में आने वाले लोगों की जानकारी, नागरिकों द्वारा सेल्फ डिक्लेरेशन के माध्यम से 10 मार्च के बाद की गयी यात्राओं की जानकारी, होम क्वारेन्टाइन का डाटा, स्वास्थ्य विभाग से डाटा लगातार कंट्रोल सेंटर में प्राप्त हो रहा है । समस्त डाटा को एक कॉमन प्लेटफार्म में लाकर डाटा की एनालिसिस कर, एक्शन प्लान तैयार किया जाना प्रस्तावित है ।

उक्त समस्त कार्य को एक सिंगल प्लेटफार्म पर लाना इसका मुख्य उद्देश्य है । इसके साथ ही जिला स्तरीय, राज्य स्तरीय एवं राष्ट्रीय स्तरीय नोटिस-सर्कुलर आदि भी एक साथ उपलब्ध रहेंगें । अभी प्राप्त शिकायतों को मैनुअली आरआरटी टीम को असाइन करना होता था तथा उनका रिस्पांस पुनः संपर्क करके अपडेट करना होता था ।

इसके माध्यम से शिकायतें अपने आप संबंधित टीम को प्रेषित हो जावेंगी तथा टीम द्वारा उनका निराकरण करने के उपरांत ऑनलाइन ही अपडेट हो जायेंगी । जिससे डैशबोर्ड में लगातार शिकायतों की संख्या उनका निराकरण आदि की जानकारी लगातार अपडेट होती रहेगी।

होम कोरेन्टाइन किये जाने वाले नागरिकों की भी प्रतिदिन की मॉनीटरिंग भी ऑनलाइन की जायेगी । जिससे रिकार्ड लगातार अपडेट होता रहेगा । चूंकि अलग अलग आपरेटर अलग-अलग शिफ्ट में कार्य करते है तो जानकारी का आदान प्रदान करने में भी समस्या आती है ।

इस ऑनलाइन सिस्टम के माध्यम से नॉलेज ट्रांस्फर ऑटोमेटिक होगा । जिससे पेंडिग कार्य की स्थिति भी लगातार प्राप्त होती रहेगी ।रोजाना होने वाली गतिविधियों की जानकारी इस ऑनलाइन सिस्टम में लगातार की जायेगी ।इस ऑनलाइन पोर्टल में सभी प्रकार के मैप जैसे हीट मैप, कंटेनमेंट एरिया, हॉट स्पॉट मैप आदि भी उपलब्ध होगें ।