राज्य सभा के नियमों की समीक्षा के लिए समिति का गठन

शेयर करें:

राज्य सभा के महासचिव देश दीपक वर्मा ने कहा है कि सभापति एम वैंकेया नायडू ने राज्य सभा के नियमों की समीक्षा के लिए एक समिति गठित की है, जो सदन में कामकाज कैसे बढ़ाया जाए इस पर रिपोर्ट तैयार करेगी. साथ ही कार्यवाही को सुचारु रूप से चलाने के लिए नियमों में बदलाव की क्या संभावनाएं हैं, इसका भी पता लगाएगी.

तीन महीने के लिए गठित ये समिति पहले चरण में सदन में गतिरोध और बिल पास करने के नियमों में संशोधन को लेकर रिपोर्ट देगी. दूसरे चरण में पॉइंट आफ ऑर्डर, स्थगन के नियम, लोकहित के मामले और विशेषाधिकार नोटिस के नियमों पर अपनी रिपोर्ट देगी.

बजट सत्र के दूसरे भाग में राज्य सभा में कामकाज के प्रभावित होने के कारण सभापति एम वेंकैया नायडू बेहद चिंतित हैं. 28 मार्च, 2018 को सदन में सभापति ने कहा था कि इसको लेकर कुछ ठोस प्रयास करने की ज़रूरत है. इसी के मद्देनज़र राज्य सभा के पूर्व महासचिव वीके अग्निहोत्री के नेतृत्व में एक समिति बनाई गई है, जिसमें आरएस धलीता सदस्य होंगे.